भाजपा हार को सम्मानजनक बनाने की लड़ाई लड़ रही थी- पायलट

0
84
प्रेस कांफ्रेस में पत्रकारों से बातचीत के दौरान पायलट ने कहा कि पिछले पांच साल के कार्यकाल में बीजेपी ने राजस्थान की जनती की उपेक्षा की है. इसके परिणाम उसे भुगतना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि पीएम जब अंतिम दिन दौसा में  आए थे तो उन्होंने मीटिंग में वसुंधरा का एक बार भी नाम नहीं लिया. क्योंकि वे जानते थे की जितनी बार सीएम का नाम लेंगे उतने वोट कम हो जाएंगे. बीजेपी की अपनी हार को सम्मान जनक बनाने की कोशिस की है. उसकी हार तय थी।
पीपीसी से चीफ ने कहा जीत का भरोसा इसलिए भी है क्योंकि वे मीडिया चैनल भी विजय की बात कह रहे हैं जो कांग्रेस का विरोध करते थे. उन्होंने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने वसुंधरा सरकार को जनता के बीच में जाकर बेनकाब किया है. साथ ही राहुल गांधी के जनसभा से जनता में जागरूकता आई है.
सचिन पायलट ने कहा कि जीएसटी, मॉबलिंचिंग, किसानों की आत्महत्या, रोजगार से सभी मुद्दों पर जनता को बीजेपी से शिकायत थी. ये नतीजे 2019 के लोकसभा चुनावों में असर डालने वाले हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा भाजपा है. वह एक पावरफुल पार्टी है. जनता की अनदेखी का फयदा उसे उठाना पड़ेगा. किसानों का कर्ज माफ करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि राहुल ने जो बोला है वे उसे कर के दिखाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...