7,50,000 भारतीय कर्मचारी नहीं लौटेंगे स्वदेश, H-1B वीजा नियमों में अमेरिका नहीं करेगा कोई बदलाव

0
107
H-1B VISA
H-1B VISA

अमेरिका में कार्यरत 7,50,000 भारतीय कर्मचारियों के लिए राहतभरी खबर आई है। आपको बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने H-1B वीजा धारकों को देश छोड़ने संबंधी किसी भी प्रस्ताव पर कोई विचार नहीं करने का निर्णय लिया है।

बीच में यह खबर आई थी कि यूएस सिटीजनशिप एंड एमिग्रेशन सर्विसेज H-1B वीजा नियमों में बदलाव करने जा रहा है, जिसके चलते अमेरिका में कार्यरत करीब 7,50,000 भारतीय कर्मचारियों को अपने देश लौटना पड़ सकता है।

H-1B वीजा धारकों को मिल सकता है एक्सटेंशन

यूएस सिटीजनशिप एंड एमिग्रेशन सर्विसेज H-1B वीजा नियमों में किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं करने जा रहा है। ऐसे में अब भारतीय तकनीकी कर्मचारियों को अमेरिका नहीं छोड़ना पड़ेगा। बताया जा रहा है कि H-1B वीजा धारकों को एक्टेंशन दिया जा सकता है। ऐसे में H1B वीजा धारक को अधिकतम छह साल के लिए ग्रीन कार्ड की मंजूरी मिल जाएगी।

यूएस सिटीजनशिप एंड एमिग्रेशन सर्विसेज के जोनाथन विथिंगटन का कहना है कि अगर ट्रंप प्रशासन एच1 बी वीजा नियमों में बदलाव करता तो ज्यादा संख्या में भारतीय पेशेवरों को अमेरिका छोड़ना पड़ता।

उन्होंने कहा कि H-1B वीजा में किसी तरह के बदलाव नहीं किए जाने से अब भारतीय कर्मचारियों को अमेरिका नहीं छोड़ना पड़ेगा। USCIS ने कहा कि ट्रंप प्रशासन ने H-1B वीजा नियमों में बदलाव पर कभी विचार नहीं किया है।

अमेरिकी न्यूज एजेंसी ने प्रकाशित की थी यह खबर

पिछले सप्ताह एक अमेरिकी न्यूज एजेंसी ने यह खबर प्रकाशित की थी कि अमेरिकी प्रशासन नए नियमानुसार H-1B वीजा धारकों के एक्सटेंशन पर रोक लगाने संबंधी विचार कर रहा है। इसके बाद से यह आशंका जताई जाने लगी थी कि एच1 बी वीजा नियमों में इस बदलाव का सबसे ज्यादा असर भारतीय तकनीकी कर्मचारियोंं पर पड़ेगा।

अमेरिकी प्रशासन का इनकार

H-1B वीजा एक्सटेंशन पर रोक लगाने संबंधी खबरों के विपरीत अमेरिकी प्रशासन ने कहा कि वह ऐसे किसी भी नियम में अभी कोई बदलाव नहीं करने जा रहा है।

ट्रंप प्रशासन का कहना है कि वह नियमों ऐसा कोई बदलाव नहीं करेगा, जिससे समस्त भारतीय कर्मचारियों को अमेरिका छोड़ना पड़े। खबरों के अनुसार, ट्रंप प्रशासन एच-1बी वीजा अवधि को छह साल की अवधि से आगे बढ़ा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...