भारतीय सेना में शामिल होगें रूस से खरीदे गए 464 नए टी-90 टैंक

पाकिस्तान के साथ हाल के दिनों में बढ़े तनाव के बाद सुरक्षा के मद्देनजर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने रूस निर्मित 464 T-90 टैंक खरीदने को मंजूरी दे दी है. 13,500 करो़ड़ की इस रक्षा डील में रूस निर्मित T-90 टैंक।

भारत को सौंपे जाएंगे. इन नए सौदे से भारत रूस निर्मित इन तोपों को पाकिस्तान से सटे हुए इलाकों में तैनात करेगा. भारतीय सेना में शामिल ये विशेष टैंक T-90 थल सेना की ताकत हैं।

सूत्रों ने आज तक को बताया कि भारत रूस से 464 टैंक  खरीद रहा है. इस रक्षा करार पर निकट भविष्य में दोनों देश हस्ताक्षर करेंगे. 14 फरवरी को सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स पर हुए जैश के हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव चरम पर है. इस नई डील की वजह से भारतीय सेना के पास तोपों की संख्या बढ़कर लगभग 2,000 के करीब हो जाएगी. भारत के पास फिलहाल T-72 और T-55 टैंक हैं।

भारतीय सेना अर्जुन मार्क-1 की 2 रेजीमेंट हमेशा तैनात रखती है. इसका भार रेत में ज्यादा प्रभावी होता है. भारतीय सेना सीधे युद्धों पर इस्तेमाल होने के लिए नए टैंकों के निर्माण पर भी विचार कर रही है।

भारत के बख्तरबंद रेजीमेंटों में मुख्य रूप से टी-90, टी-72 और अर्जुन टैंक शामिल हैं. भारत की तरह पाकिस्तान भी रक्षा तंत्र को मजबूत करने की तैयारी कर रहा है. भारतीय थल सेना के करीब 67 बख्तरबंद रेजीमेंटों की तुलना में पाकिस्तान थल सेना के इसी तरह की रेजीमेंटों की संख्या करीब 51 है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...