भारत बंद पर मायावती ने कहा, भाजपा ने कराया एससी-एसटी एक्ट का विरोध

0
54

नई दिल्ली । 6 सितम्बर को सवर्ण संगठनों द्वारा एससी-एसटी एक्ट में संशोधन के विरोध में बुलाए गए भारत बंद पर प्रतिक्रिया देते हुए शुक्रवार को बसपा सुप्रीमो मायावती ने इसे बीजेपी का ‘पॉलिटिकल स्टंट’ करार दिया है. प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि अपना जनाधार खिसकता देख बीजेपी पर्दे के पीछे से यह खेल कर रही है. उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले बीजेपी जातियों को बांटना चाहती है.

दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए बसपा सुप्रीमो ने कहा कि एससी-एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध सिर्फ बीजेपी शासित राज्यों में कराया गया. उन्होंने कहा कि भारत बंद का असर सिर्फ बीजेपी शासित राज्यों में ही देखने को मिला. अब चुनाव नजदीक आता देख बीजेपी जातिगत तनाव फैलाना चाहती है.

मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी सिर्फ दलितों की पार्टी नहीं है. उनकी पार्टी दलित, पिछड़ा, सवर्ण और अल्पसंख्यकों की पार्टी है. उन्होंने कहा उनकी पार्टी सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाय की हितैषी है. मायावती ने कहा कि उनकी सरकार में ही पहली बार सवर्णों को आर्थिक रूप से आरक्षण देने की मांग उठाई. उन्होंने कहा कि मेरी सरकार में किसी के साथ अन्याय नहीं हुआ और न ही एससी-एसटी एक्ट का दुरुपयोग हुआ.

मायावती ने कहा कि केंद्र सरकार की नीतियों की वजह से आम जनता त्राहि-त्राहि कर रही है. बिना किसी तैयारी के नोटबंदी और जीएसटी लागू कर केंद्र सरकार ने लोगों को बर्बाद कर दिया है

  • 3
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...