भारत बंद से हालात बिगड़े, सुप्रीम कोर्ट पुनर्विचार करेगा

जयपुर। एसी/एसटी की ओर बुलाए गए भारत बंद से देश में हो रहे प्रदर्शन एवं हालातों को देखते हुए केन्द्र ने सुप्रीम कोर्ट को पुनर्विचार अर्जी दी थी। जिसे सुप्रीम कोर्ट ने मंजूर कर लिया हैं। राजस्थान में एससी-एसटी संगठन की ओर से बुलाए गए भारत बंद  ने देशभर में माहौल को बदल दिया। प्रदर्शनकारियों ने आमजन को इस प्रकार से प्रभावित कर दिया कि यह वह इस बंद से डरा हुआ हैं। रैलियों ने पूरे देश में कितने लोगों को परेशान किया हैं इसका उन्हे अदांजा भी नही हैं। राजस्थान में कई जगह पर ट्रेने रोकी गई, अन्य स्थानों पर तोडफ़ोड की गई।
जयपुर में यातायात बुरी तरह से प्रभावित हो गया हैं। रैलियों से जगह-जगह लोग अपने गतव्यं तक पहुच पाने में असमर्थ नजर आ रहे हैं। फिर चाहे वो कितना ही जरूरी काम न हो। कई जगह पर ट्रेनों को रोक दिया गया हैं। जयपुर मैट्रो ने शाम चार बजे तक इसका संचालन रोक दिया हैं। इस प्रकार से आमजन को कितनी परेशानी का सामना करना पड़ रहा हैं। लोग चाहते है कि किसी भी तरह से ट्रेन शुरू हो जाएं तो हम अपनी जगह पर पहुचें। बाईस गोदाम पर एक ट्रैक्सी चालक खाने का सामान लेकर जा रहा था। उसको लूट लिया गया।  जयपुर में बंद के दौरान विभिन्न संगठनों के लोग संजय सर्किल पर एकत्र हुए। इसके बाद शहर के विभिन्न रास्तों से होते हएु रामनिवस बाग पहुंची। इस रैली को शांति मार्च नाम दिया गया। लेकिन लोगों को कितनी अशांति का सामना करना पड़ा इस बात को जरा भी सोचा होता। वहीं परकोटे में बंद के दौरान दुकानें बंद रहीं।
अलवर में हॉप सर्कस पर व्यापारियों व बंद समर्थकों में झडप हो गई। यहां कई ट्रेनें रोकी गईं। जाट छात्रावास पर बंद समर्थकों व बंद विरोधी लोगों में पथराव हुआ। यहां बंद समर्थक जय भीम के नारे लगाते चले। अलवर मे खैरथल में प्रदर्शनकारियों में गोली लगने से एक युवक की मौत हो गई। कोटपूतली के आजाद चौक मार्केट में प्रदर्शनकारियों ने जबरन दुकानें बंद कराई गईं।इस दौरान पुलिस मूक दर्शक बनी रही। भरतपुर में बंद का व्यापक असर रहा। यहां बंद समर्थकों ने दुकानें बंद कराईं। हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी लाठियां लेकर शहर में घूमते रहे। कई स्थानों पर तोडफोड की गई। शिवनगर के मोड पर एक मिठाई वाले के यहां तोडफोड के दौरान गर्म कढ़ाई के गिर जाने से हवाई झुलस गया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
जोधपुर संभाग
दलित संगठनों के सोमवार को भारत बंद के आह्वान के दौरान बाजार बंद कराने को लेकर जोधपुर संभाग के बाडमेर में दलित समाज और करणी सेना के लोग आपस में उलझ गए। दोनों पक्षों के बीच जमकर पथराव होने के बाद पुलिस ने अश्रु गैस छोडी और लाठीचार्ज कर दोनों पक्षों को खदेड दिया। पथराव में करीब दो दर्जन लोग चोटिल हो गए। पथराव के कारण हालात तनावपूर्ण बन गए। वहीं बाजार पूरी तरह से बंद रहे।  जोधपुर में बंद के दौरान पथराव हुआ। जिससे मौके पर मौजूद एसआई महेन्द्र चौधरी को हार्ट अटैक आ गया। उन्हे अस्पताल ले जाया गया इस समय पर वे आईसी यू में भर्ती हैं। उनका इलाज चल रहा हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...