मध्य प्रदेश में अपने प्रत्याशी खड़ा करेगी सपा: अखिलेश

लखनऊ। समाजवादी पार्टी(सपा) के अध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि मध्य प्रदेश विधान सभा चुनाव में उनकी पार्टी अपने प्रत्याशी खड़े करेगी।

यादव मंगलवार को यहां पार्टी मुख्यालय पर मध्य प्रदेश के पार्टी पदाधिकारियों,

प्रभारियों तथा प्रमुख कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सपा जिताऊ और निष्ठावान प्रत्याशी खड़ा करेगी।

उन्होंने कहा कि पार्टी संगठन को मजबूत करना और चुनावों में हिस्सा लेना साथ-साथ होगा।

चुनाव में समय कम है इसलिए बूथ स्तर और विधानसभा स्तर पर सुनियोजित ढंग से काम करना है।

जनसंपर्क कार्य में तेजी लानी होगी। पार्टी को मजबूत बनाने के लिए संगठन कार्य में ज्यादा समय देना होगा।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) सरकारें नकारात्मक प्रशासनिक व्यवस्थाएं चला रही है।

भाजपा की मध्य प्रदेश में सरकार है जिसने राज्य को बर्बादी के कगार पर पहुंचा दिया है।

किसानों को कर्जमाफी के नाम पर धोखा मिला है। उनके आंदोलन पर दमनचक्र चला है।

जीएसटी-नोटबंदी से सभी परेशान हैं। बैंको का पैसा लेकर लोग विदेशों में भाग गए हैं।

विकास को जाति और धर्म में बांट दिया गया है। विकास और सामाजिक न्याय दोनों का संतुलन होगा।

सपा अध्यक्ष ने कहा कि वह 19-20 जुलाई को मध्य प्रदेश में रहेंगे। भोपाल में राज्यभर के

कार्यकर्ताओं की बैठक को भी संबोधित करेंगे तथा मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनावों पर

चर्चा करने के बाद रणनीति पर विचार करेंगे।

उनकी मांग है कि आधार के सहारे जनगणना में जातीय गणना भी हो ताकि समानुपातिक

रूप से समाज के सभी वर्गो की भागीदारी तय हो सके।

उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश मेें लोग भाजपा से नाराज हैं लेकिन कांग्रेस से भी खुश नहीं हैं,

इसलिए सपा को चुनाव में मजबूत प्रत्याशी उतारने होंगे और संगठन को दृढ़ करना होगा।

इस मौके पर मध्य प्रदेश से आए पार्टी नेताओं ने कहा कि समाजवादी पार्टी की व्यापक

उपस्थिति से मध्य प्रदेश में हलचल है। अखिलेश यादव के व्यक्तित्व में आकर्षण है।

किसानों, नौजवानों का रूझान समाजवादी पार्टी की तरफ है।

यूपी के विकास की सूचना मध्य प्रदेश के गरीबों को है।

वे समाजवादी सरकार की योजनाओं से प्रभावित हैं। वहां किसानों को भुगतान एक-एक साल तक नहीं होता है।

उनका शोषण होता है। युवाओं के लिए अखिलेश प्रेरणा स्रोत हैं।

वे मध्य प्रदेश के चुनावों को प्रभावित कर सकते है।

बैठक में कहा गया कि मंदसौर में पिछले दिनों हुए किसान आंदोलन में छह किसान शहीद हुए।

समाजवादी पार्टी किसान की समस्याओं को लेकर संषर्घ करती रही है।

भाजपा मतदाताओं को बहकाने का काम करती है। इससे सतर्क रहना है।

उन्होंने कहा मध्य प्रदेश में समाजवादी पार्टी की भूमिका बड़ी होगी लेकिन साथ ही

दल के लोगों को भी बड़ा दिल करना पड़ेगा।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...