मशहूर शायर फैज की बेटी को कॉन्फ्रेंस में जाने से रोका, बेटे ने कहा- क्या यही है शाइनिंग इंडिया?

नई दिल्ली: मशहूर शायर फैज अहमद फैज की बेटी और शांति के क्षेत्र में काम करने वाली मोनीज़ा हाशमी को दिल्ली में एक अंतरराष्ट्रीय मीडिया कॉन्क्लेव में शामिल होने से रोकने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. सोशल मीडिया पर जमकर इसकी आलोचना हो रही है. खास बात ये है कि इस मीडिया कॉन्क्लेव में सूचना प्रसारण मंत्रालय पार्टरनर थी. हालांकि अभी से स्पष्ट नहीं हो पाया है कि आखिर किस वजह से उन्हें कांफ्रेंस में जाने से रोका गया. हालांकि सूत्रों का कहना है कि उनके पास कॉन्फ्रेंस वीजा नहीं था. उनके पास सिर्फ विजिटर वीजा था इसलिए उन्हें रोका गया.

शनिवार को अपने देश लौटीं 72 साल की मोनीजा ने अपने इस कटु दौरे पर कुछ भी बोलने से खुद को दूर रखा है. हालांकि, उन्होंने इतना जरूर कहा कि फैज फाउंडेशन ट्रस्ट दोनों देशों के बीच बेहतर रिश्ते बनाने के लिए एक पुल का काम करता है. कॉन्क्लेव में शरीक होने से रोकने पर मोनीज़ा ने द टेलीग्राफ से कहा है कि फैज फाउंडेशन अमन को बढ़ावा देने पर काम करता रहेगा और भारत के लोगों को इसके लिए दावत दी जाती रहेगी. उन्होंने कहा, हमारे दिल अभी भी खुले हुए हैं. जैसा की फैज ने कहा है, “लंबी है गम की शाम मगर शाम ही तो है.”

आपको बता दें कि एशिया पैसिफिक इस्टीट्यूट फॉर ब्रॉडकास्टिंग डेवलपमेंट (AIBD) ने सूचना प्रसारण मंत्रालय के साथ मिलकर 15वां एशिया मीडिया समिट कराया था. AIBD का कहना है कि उन्हें दावत दी गई थी, लेकिन वो इसलिए कॉन्क्लेव में शरीक नहीं हो सकीं क्योंकि उन्हें दूसरे होटल में स्थानांतरित होना पड़ा था.
Read Also:कर्मचारियों के पैसों को लगाया बिजनेस में..कम्पनियों ने किया 3200 करोड़ का घोटाला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here