यौन शोषण पर पुलिस ने साधी चुप्पी

0
80
घटना के संबंध में दर्ज एफआईआर के बाद पुलिस ने पीड़ित छात्र का मेडिकल तक करवा चुकी है। बातचीत करने पर पुलिस केवल जांच का हवाला देकर चुप्पी साध रही है। जानकारी के मुताबिक घटना 23 जुलाई की बताई जा रही है, जबकि, इसकी एफआईआर 30 जुलाई को दर्ज हुई है। घटना के  बाद पीड़ित छात्र मेयो बॉयज कॉलेज परिसर की ऊंची दीवार को फांदकर भाग गया था। सूत्रों की मानें तो घटना के बाद सात दिन तक इस मामले पर पर्दा डालने की कोशिश हुई। लेकिन, जब पीड़ित छात्र के पिता अपनी शिकायत वापस लेने को तैयार नही हुए तो कॉलेज प्रशासन ने सात दिन बाद मामला थाने में दर्ज करवाया।
बताया जा रहा है कि सात दिन के भीतर कॉलेज कमेटी ने भी घटना की जांच की थी। इसके बाद कॉलेज प्रशासन की ओर से थाने पर शिकायत देने से स्पष्ट है कि कॉलेज में छात्र के साथ उसकी कक्षा के छात्रों ने ज्यादत्ती की है। उधर, पुलिस एफआईआर के बारे में कुछ भी कहने से बच रही है। वहीं, बताया जा रहा है कि कॉलेज प्रशासन की ओर से दी गई शिकायत में छात्र के साथ रैंगिग होना बताया गया है। उसमें छात्र से मारपीट और यौनशोषण आदि का आरोप है। मामले में पीड़ित और आरोपी 6 छात्र सभी नाबालिग है। वहीं, सूत्रों की मानें तो पुलिस को मेडिकल रिपोर्ट से कोई ठोस सबूत नहीं मिले हैं। हालांकि, पुलिस का कहना है कि मामले की जांच जारी है।
आठ दिन पहले हुआ था दाखिला

जानकारी के अनुसार पीड़ित छात्र का दाखिला घटना के 8 दिन पहले ही हुआ था। इन आठ दिनों में छात्र ने एक बार पहले भी भागने की कोशिश की थी। मगर वह कामयाब नही हो पाया। लेकिन, इस बार वह कामयाब हो गया। घटना के बाद भागकर छात्र अपने पिता के पास पहुंचा और आपबीती बताई।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...