रकबर के परिजनों को 50 लाख रुपये और आहूजा को गिरफ्तार करने की मांगें

अलवर: अलवर जिले के रामगढ़ थाना क्षेत्र में गत दिनों रकबर उर्फ अकबर खान की कथ‍ित गोरक्षकों द्वारा पीट-पीट कर हत्या कर देने के मामले में मेव समाज ने एक महापंचायत की है |हरियाणा के नूंह में आयोजित महापंचायत में परिजनों को 50 लाख रुपये का मुआवजा देने और बीजेपी विधायक ज्ञान देव आहूजा को गिरफ्तार करने जैसी कई मांगें की गई हैं |

बीजेपी विधायक को गिरफ्तार करने की मांग :

अलवर के मेव पंचायत नेता शेर मोहम्मद ने कहा कि राजस्थान सीमा से सटे हरियाणा के नूंह जिले में पीड़ि‍त के गांव में आयोजित समाज की महापंचायत में यह मांग उठाई गई है |
आहूजा ने मॉब लिंचिंग की घटना के बाद भड़काऊ बयान दिए और आरोपियों का समर्थन किया, इसलिए उन्हें षड़यंत्र रचने के आरोप में गिरफ्तार किया जाना चाहिए |

पुलिस से घटनास्थल पर मारपीट के समय मौजूद और पुलिस को सूचना देने वाले नवल किशोर शर्मा को मुख्य आरोपी बनाने की मांग की गई है | महापंचायत में की गई अन्य मांगों में पीड़ि‍त की पत्नी को सरकारी नौकरी देने और मामले की जांच एसआईटी द्वारा कराये जाने की मांग की गई है |

20-21 जुलाई की रात कुछ लोगों द्वारा रकबर उर्फ अकबर खान के साथ मारपीट को अंजाम दिया गया था | उन्होंने कहा कि घटना के सिलसिले में गिरफ्तार तीन आरोपियों को रिहा किया जाए, क्योंकि पीड़ि‍त की मौत पुलिस की लापरवाही की वजह से हुई थी |

भाजपा विधायक अलवर के रामगढ़ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते है, जहां यह घटना घटित हुई थी | जब उनसे मेव पंचायत द्वारा उनकी गिरफ्तारी की मांग के बारे में पूछा गया तो विधायक ने कहा कि उन्हें इसकी परवाह नहीं है |

हरियाणा के नूंह जिले के 28 वर्षीय रकबर उर्फ अकबर खान और उनके दोस्त असलम गत 20-21 जुलाई की रात को अलवर के रामगढ़ क्षेत्र से दो गायें लेकर जब लालवंडी गांव के जंगल से होकर गुजर रहे थे, उसी दौरान कुछ लोगों के समूह ने गौ तस्करी के संदेह में उनके साथ मारपीट की, असलम बचकर भाग निकला था | पुलिस ने मारपीट में घायल हुए अकबर को लगभग दो से ढाई घंटें की देरी से अस्पताल पहुंचाया जहां उसे 21 जुलाई की अल सुबह मृत घोषित कर दिया गया |

 

  • 2
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...