राजधानी दिल्ली में बढ़ते जा रहे है बाढ़ के आसार

नई दिल्ली: दिल्ली में अब बाढ़ आने के आसार शुरू हो गए है, इसकी वजह मूसलाधार बारिश और हथिनीकुंड बैराज से छोड़े जाने वाला पानी है | आज सुबह का यमुना का जलस्तर 206 मीटर पर पहुंच गया | इससे बाढ़ का खतरा बढ़ाता ही जा रहा है जो बहुत चिंताजनक है |

यमुना के जलस्तर के खतरनाक स्तर पर पहुंचे के बाद दिल्ली के निचले इलाकों को खाली कराया गया है और लोगों को राहत कैंपों में पहुंचाया गया है | हथिनीकुंड बैराज से लगातार पानी छोड़ा जा रहा है, जिसके चलते यमुना का जलस्तर तेजी से बढ़ रहा है |

हथिनीकुंड बैराज से पानी छोड़ने का सिलसिला जब तक बंद नहीं होता है, तब तक दिल्ली में बाढ़ का खतरा बढ़ता ही जाएगा |

आज सुबह दिल्ली रेलवे ब्रिज का जलस्तर 206 मीटर तक पहुंच गया है जो बाढ़ को बुलावा दे रहा है | रेलवे को ट्रेनों की आवाजाही रोकनी पड़ रही है, कई ट्रेनों के रूट भी बदलने पड़ रहे हैं | यमुना का जलस्तर 205.52 मीटर पहुंचने पर पुल से आवाजाही बंद कर दी गई थी | यमुना पुल के बंद होने से रेलवे ने 27 पैसेंजर गाड़ियों को रद्द कर दिया था, 14 एक्सप्रेस गाड़ियों का रूट बदल दिया था और तीन एक्सप्रेस गाड़ियों को रद्द कर दिया था |

बाराबंकी में नेपाल से छोड़े गए पानी और लगातार हो रही बारिश से घाघरा भी उफना गई है | तटवर्ती गांवों की ओर बाढ़ का पानी बढ़ते देख ग्रामीण सिहर उठे हैं | राहत एवं बचाव कार्य शुरू करने को प्रशासन ने अलर्ट कर दिया है | चरसड़ी तटबंध के तटवर्ती करीब चार गांव बाढ़ के पानी से घिर गए हैं |

रामनगर के दर्जनों गावों में घाघरा नदी की कटान तेज़ हो गई है | नेपाल में भारी बारिश के चलते आज फिर गिरिजा बैराज से एक लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया है, जिससे घाघरा नदी खतरे के लाल निशान से 11 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है |

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...