राष्ट्रीय विरोधी नारेबाजी से उमर खादिम का निष्कासन, कन्हैया कुमार की जुर्माने की सजा बरकरार

नई दिल्ली। 9 फ़रवरी 2016 को राष्ट्रविरोधी नारेबाजी हुई जिसमे जे एन यु की उच्च स्तरीय जांच समिति ने विश्वविद्यालय परिसर ने उमर खालिद के निष्कासन और कन्हैया कुमार पर 10000 रूपए का जुरमाना बरक़रार है

अनुशासन नियमो को तोड़ने के लिए पैनल ने 13 अन्य छात्रों पर जुरमाना लगाया। छात्रों ने उच्च न्यायालय में दस्तक दी। अदालत ने पैनल के फैसले की समीक्षा को अपीलीय प्राधिकारी के समक्ष रखने का निर्णय दिया।

सूत्रों के अनुसार आसुतोष कुमार जैसे कुछ छात्रों की जुर्माना राशि कम कर दी गयी है. अब उन्हें जुर्माने की राशि अदा करनी होगी और वे छात्रावास में रह सकते हैं। जो जे एन यू के छात्र नहीं है उनपर ये सजा लागू नहीं होती है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...