राहुल और कांग्रेस को झटका, JDS ने कहा- चुनावों के बाद हो PM पर फैसला

2019 लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी एकजुटता की कोशिशों के बीच जेडीएस की ओर से बड़ा बयान आया है. जेडीएस का ये बयान एक तरह से कांग्रेस और राहुल गांधी के लिए झटका है.

कर्नाटक की सत्ताधारी पार्टी जेडीएस की ओर से कहा गया है कि लोकसभा चुनाव के बाद ही प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के मुद्दे पर फैसला होना चाहिए.

जेडीएस  का बयान ऐसे समय में आया है जब हाल ही में कर्नाटक चुनाव के दौरान

विपक्ष की सबसे बड़ी पार्टी कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री बनने की इच्छा जाहिर की.

बता दें कि राहुल गांधी ने कर्नाटक में चुनाव प्रचार के दौरान एक सवाल के जवाब में कहा था कि अगर उनकी पार्टी चुनाव जीतती है तो वो प्रधानमंत्री बनने के लिए तैयार हैं.

जेडीएस के महासचिव दानिश अली ने कहा कि अगले साल लोकसभा चुनावों के बाद एकजुट

विपक्ष द्वारा प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के मुद्दे पर फैसला होना चाहिए. उन्होंने पहले के तीन मौकों का जिक्र किया जब चुनावों के बाद प्रधानमंत्री का चुनाव हुआ था. उन्होंने कहा, ‘हमारा पहले का अनुभव रहा है

कि वीपी सिंह चुनावों के बाद प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बनकर उभरे. साल 1996 में लोकसभा चुनावों के बाद एकीकृत मोर्चा का गठन हुआ और एच डी देवगौड़ा प्रधानमंत्री बने. इसी तरह, 2004 चुनावों

के नतीजों के बाद यूपीए की ओर से मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री चुना गया.’

उन्होंने आगे कहा कि हमें सर्वसम्मति से फैसला करना है, किन्हें प्रधानमंत्री बनना चाहिए.

बीते 23 मई को जेडीएस के नेता और कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी के शपथ

ग्रहण के दौरान विपक्षी नेताओंने एकजुटता का संदेश दिया था. साल 2014 के बाद यह पहली बार था,

जब इतने दल मिलकर बीजेपी के खिलाफ एकजुट हुए थे. बता दें कि कर्नाटक

विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने 104 सीटों, कांग्रेस ने 78 और जेडीएस ने 37 सीटों पर जीत दर्ज की है.

शपथ ग्रहण के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी के अलावा

मुख्य रुप से बसपा सुप्रीमो मायावती, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव शामिल हुए थे.

इसके अलावा तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, सीपीएम के

महासचिव नेता सीताराम येचुरी, सीपीआई के डी राजा, राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष अजित सिंह,

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू समेत कई बड़े नेता शामिल हुए थे.

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...