रूस नहीं चाहता यूरोपीय संघ में दरार डालना: पुतिन

मास्को.वियना। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने साफ कर दिया है कि वे यूरोपीय संघ को विभाजित करने की कोशिश नहीं कर रहे हैं। ऑस्ट्रिया दौरे से पहले उनकी यह टिप्पणी काफी अहम है।

करीब एक वर्ष में उनकी यह पश्चिमी यूरोपीय देश की पहली यात्रा है।

उन्होंने ऑस्ट्रिया के ओआरएफ स्टेशन को बताया कि वह ‘संयुक्त और समृद्धÓ यूरोपीय संघ चाहते थे, जो रूस के सबसे महत्वपूर्ण वाणिज्यिक और आर्थिक साझेदार होते।
इस दौरान उन्होंने अपनी यूनाइटेड रूस पार्टी और ऑस्ट्रिया की दूर-दराज की स्वतंत्रता पार्टी के बीच रिपोर्ट किए गए लिंक भी बजाए।
रूसी राष्ट्रपति पुतिन मंगलवार को ऑस्ट्रियाई राष्ट्रपति अलेक्जेंडर वान डेर बेलेन
और चांसलर सेबेस्टियन कुर्ज से मिलेंगे। इसी दौरान व्यावसायिक नेताओं से भी उनकी मुलाकात होगी।
उन्होंने कहा कि यूरोपीय संघ के लिए जो समस्याएं हैं, वे हमारे लिए अधिक जोखिम और समस्याएं हैं।

उन्होंने कहा कि हमें यूरोपीय संघ के साथ सहयोग बनाने की जरूरत है।

हमारे पास यूरोपीय संघ में कुछ भी या किसी को भी विभाजित करने का लक्ष्य नहीं है।

संभव है इस दौरान यूरोपीय संघ की ओर से रूस पर लगाए गए प्रतिबंधों पर भी चर्चा हो।

वर्ष 2014 में यूरोपीय संघ ने रूस पर प्रतिबंध लगा दिया था, क्योंकि, इसने क्रीमिया पर कब्जा कर लिया था

और पूर्वी यूक्रेन में अलगाववादियों का समर्थन किया था।

Read Also:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...