लम्बी कतारों में ही गुजर रहे मरीजों के कई घंटे, कम पड़ रहे रजिस्ट्रेशन काउंटर

0
60
DEMO PIC

महानगर संवाददाता
तमाम दावों के बाद भी जयपुरिया अस्पताल में बेपटरी हो रहीं व्यवस्थाएं
जयपुर। जयपुरिया अस्पताल में इन दिनों आउटडोर में आने वाले मरीजों पर दोहरी मार पड़ रही है। अस्पताल में स्थिति ऐसी है कि मौसमी बीमारियों के मरीजों को ज्यादा भीड़ होने के कारण रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए घंटों का इंतजार करना पड़ रहा है। ऐसे में जयपुरिया अस्पताल में इलाज के लिए आने वाले मरीज परेशान हो रहे हैं। गौरतलब है कि मौसमी बीमारियों के सीजन में अस्पताल के मरीजों को हर बार ऐसे हालात झेलने पड़ते हैं। इस मामले में दूरदराज से आने वाले मरीजों का कहना है कि रजिस्ट्रेशन काउंटर कम होने के कारण लम्बी कतार में मरीजों को लम्बा इंतजार करना पड़ रहा है। ऐसा नहीं है कि इस बात की जानकारी जयपुरिया अस्पताल प्रशासन को नहीं है। फिर भी प्रशासन इस मामले को गंभीरता से नहीं ले रहा है। ऐसे में रजिस्ट्रेशन करवाने में ही मरीजों को घंटों का इंतजार करना पड़ रहा है।
आउटडोर में प्रतिदिन आ रहे पांच हजार से ज्यादा मरीज
गौरतलब है कि इन दिनों जयपुरिया अस्पताल में प्रतिदिन पांच हजार से ज्यादा मरीज इलाज के लिए आ रहे हैं। इनमें सर्वाधिक मरीजों की संख्या मौसमी बीमारियों के मरीजों की होती है। अस्पताल में हाल यह है कि मरीज किसी तरह से आउटडोर की लम्बी कतारों से अपना पीछा छुड़ाते हैं तो उन्हें फिर डॉक्टरों को दिखाने के लिए लम्बी कतारों में लगना पड़ता है। वजह है कि मेडीसिन विभाग में अलग से कोई अतिरिक्त आउटडोर नहीं है। डॉक्टर को दिखाने के बाद सैंपल जमा करने में भी मरीजों को लम्बी कतारों में लगना पड़ रहा है। क्योंकि सुबह साढ़े ग्यारह बजे के बाद सैंपल जमा नहीं किए जाते। ऐसे में इलाज के लिए आए मरीजों को कई बार लम्बी कतारों से गुजरने के बाद ही इलाज नसीब हो पा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...