लापता गजानंद की कल होगी पाक जेल से रिहाई

0
151

जयपुर। राजधानी जयपुर से 36 साल पहले लापता हुए गजानंद शर्मा कल यानी 13 अगस्त को पाकिस्तान जेल से रिहा हो रहे हैं। चार महीने पहले अप्रैल महीने में जब पाकिस्तान से उनकी भारतीय नागरिकता संबंधी दस्तावेज सत्यापन के लिए आए थे, तब परिजनों को उनके पाकिस्तान की लाहौर जेल में बंद होने की जानकारी मिली थी। जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान की विभिन्न जेलों में बंद 30 भारतीय नागरिकों को स्वतंत्रता दिवस के दो दिन पहले रिहा किया जा रहा है। इनमें 29 मछुआरे बताए जा रहे है, जबकि एक गजानंद शर्मा (69) है। गजानंद पाकिस्तान की लाहौर स्थित लखपत कोट जेल में बंद है। जयपुर शहर के सांसद रामचरण बोहरा ने इसकी पुष्टि की है।

जानकारी के मुताबिक, 30 भारतीय नागरिकों को रिहाई के बाद वाघा बॉर्डर लाया जाएगा। पाकिस्तान से भारत की सीमा में सोमवार दोपहर करीब 12 से 1 बजे के बीच प्रवेश करवाया जाएगा। हालांकि, कराची से जिस ट्रेन से इन 30 भारतीय नागरिकों को वाघा बॉर्डर तक भेजा जाएगा। इसके संचालन में किसी कारणवश देरी होने से इन भारतीय नागरिकों के वाघा बॉर्डर पहुंचने में देरी भी हो सकती है।

इससे पहले 9 अगस्त को सांसद रामचरण बोहरा के सहयोग से गजानंद शर्मा की पत्नी मखनी देवी, बेटा मुकेश ने केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह से नई दिल्ली स्थित मुलाकात की थी। तब केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह ने मखनी देवी से बातचीत करते हुए आश्वस्त किया था कि 13 अगस्त को गजानंद पाक जेल से रिहा होंगे। इसके बाद दो से तीन की दूतावास और सुरक्षा एजेंसियों की कार्रवाई के बाद वे परिजनों से मिल सकेंगे।

पाक जेल में बंद गजानंद ने बयानों में अपने पैतृक गांव सामोद थानान्तर्गत महार कलां बताया था। इस पर पाकिस्तान ने जांच के लिए कागज भारत भेजे। सामोद पुलिस ने 7 मई को गजानंद के पैतृक गांव पहुंचकर उनके बेटे मुकेश से संपर्क किया। फिर 9 मई को पुलिस थाने दस्तावेजों के सत्यापन के लिए पहुंचे। तब मुकेश को उसके पिता गजानंद के पाकिस्तान जेल में बंद होने का पता चला। गजानंद की रिहाई की खबर से परिवार में खुशी का माहौल है।

  • 2
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...