लालू की सेवा करने बिरसा जेल पहुंचे उनके दो ‘सेवक’, जानिए पूरा मामला

0
66
lalu-prasad-yadav
lalu-prasad-yadav

हम सभी जानते हैं कि राजद मुखिया को चारा घोटाला मामले में साढ़े तीन साल की सजा हो चुकी है। लेकिन इससे पहले हैरान करने वाली खबर यह है कि लालू यादव के सजा से ठीक दो घंटे पहले उनका रसोईया और एक सेवक मारपीट तथा दस हजार रूपए छीनने के मामले में खुद के खिलाफ केस दर्ज करवाकर जेल पहुंच चुके हैं।

इन दोनों ‘सेवकों’ में से एक का नाम लक्ष्मण महतो तथा दूसरे का नाम मदन यादव है। लक्ष्मण महतो पटना निवासी है, वहीं मदन यादव रांची का रहने वाला है। लालू के ये दोनों सेवक रांची के बिरसा मुंडा जेल में कैद हैं। लक्ष्मण महतो तथा मदन यादव इस समय लालू यादव की सेवा में जुटे हुए हैं।

जानिए कैसे जेल पहुंचे लालू के ये दोनों ‘सेवक’

लालू यादव के इन दोनों सेवकों की कहानी बहुत दिलचस्प है। आप को बता दें कि सुमित नाम के एक शख्स ने मदन यादव तथा लक्ष्मण महतों के विरूद्ध मारपीट तथा 1000 रूपए छीनने की प्राथमिकी दर्ज करवाई है। सुमित की ओर से पुलिस थाने में केस दर्ज करवाने के बाद ही लालू के इन दोनों सेवकों ने अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया।

रांची निवासी मदन यादव डेयरी का काम करते हैं, जबकि लक्ष्मण महतो लालू यादव के खाने से लेकर दवा तक पूरा ख्याल रखते हैं।
गौरतलब है कि लक्ष्मण महतो तथा मदन यादव के जेल में होने से लालू के परिजनों को उनके खाने—पीने तथा सेवा की चिंता ना हो लेकिन जब लालू यादव के वकील हाईकोर्ट या सुप्रीम कोर्ट उनकी जमानत के लिए अर्जी पेश करेंगे, उस दौरान राजद मुखिया के केस पर विपरीत असर पड़ सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...