वीरू ने उगला राज…युवी इसलिए नहीं बने पंजाब के कप्तान

0
120

नई दिल्ली। आखिरकार टीम इंडिया के पूर्व धाकड़ बल्लेबाज वीरेन्द्र सहवाग ने राज उगल ही दिया है। सहवाग ने बता ही दिया कि क्यों किंग्स इलेवन पंजाब ने युवराज सिंह के बजाय रविचन्द्रन अश्विन को टीम की कमान सौंपी है। सहवाग ने उन सभी वजहों का खुलासा किया, जिसके चलते ऐसा किया गया। किंग्स इलेवन पंजाब के मेंटर सहवाग ने बताया कि वे चाहते थे कि कोई गेंदबाज ही कप्तान बने, क्योंकि, एक गेंदबाज ही खेल को किसी और की तुलना में अधिक बेहतर समझता है। उन्होंने कहा कि उम्मीद है टीम अश्विन के नेतृत्व में अच्छा प्रदर्शन करेगी। उन्होंने कहा कि मैं कपिल देव, वसीम अकरम, वकार यूनुस का बहुत बड़ा फैन हूं। ये सभी गेंदबाज थे और कप्तान के रूप में टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया।

इसलिए है अश्विन खास

उन्होंने कहा कि अश्विन की खासियत है कि वे स्मार्ट हैं और गेंदबाजी में भी बदलाव कर सकते हैं। अश्विन टी-20 फॉर्मेट को किसी अन्य की तुलना में बेहतर तरीके से समझते हैं। क्योंकि, वे पावर प्ले में बॉलिंग करने में माहिर हैं।


नई जिम्मेदारी का उठाऊंगा लुत्फ

कभी भारतीय टीम का तुरूप का पत्ता होने वाले अश्विन इस समय वनडे और टी-20 फॉर्मेट से बाहर चल रहे हैं। किंग्स इलेवन पंजाब की कप्तानी मिलने के बाद अश्विन ने कहा कि इतने प्रतिभाशाली खिलाडिय़ों से सुसज्जित खिलाडिय़ों की जिम्मेदारी मिलने के बाद में बहुत ही सम्मानित महसूस कर रहा हूं। कप्तानी संभालने को लेकर मैं किसी तरह का दबाव महसूस नहीं कर रहा। मैंने पहले ही 21 साल की उम्र में तमिलनाडु की कप्तानी की है और अब मुझे उम्मीद है कि मैं इस चुनौती का पूरा लुत्फ उठाऊंगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...