शराबी ड्राइवर ने त्रिपुरा में लेनिन की प्रतिमा की ध्वस्त

अगरतला। काफी समय बाद लेफ्ट के लाल किले को ध्वस्त करते हुए भाजपा ने त्रिपुरा में बड़ी जीत दर्ज की। राजनीतिक उलटफेर होते ही त्रिपुरा में शान्ति व्यवस्था भी बेपटरी हो गई। खबर है कि त्रिपुरा में बेलोनिया में बुलडोजर की मदद से रूसी क्रान्ति के नायक व्लादिमिर लेनिन की मूर्ति को गिरा दिया गया है। मूर्ति गिराने के बाद लोग भारत माता की जय के नारे भी लगा रहे थे।
त्रिपुरा के एसपी कमल चक्रवर्ती के मुताबिक भाजपा समर्थकों ने इसे अंजाम दिया। वहीं त्रिपुरा में भाजपा की जीत के बाद से राज्य के कई इलाकों से तोडफ़ोड़ और हिंसा की खबरें आ रही हैं।

धारा 144 लगाई

सीपीएम का कहना है कि भाजपा और आईपीएफटी के कार्यकर्ता हिंसा की वारदात को अंजाम दे रहे हैं। सीपीएम ने आरोप लगाया कि भाजपा और आईपीएफटी के कार्यकर्ता ना सिर्फ वाथपंथी पार्टी के दफ्तरों को निशाना बना रहे हैं बल्कि उनके कार्यकर्ताओं पर भी हमले किए जा रहे हैं। हालांकि, लेफ्ट पार्टी के कार्यकर्ता भी हमलों में शामिल बताए जा रहे हैं। हिंसा के इन मामलों में तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। शांति व्यवस्था बनाए रखने केर लिए कई थाना क्षेत्रों में धारा 144 भी लगाई गई है।

ड्राइवर को पिलाई शराब और…

व्लादिमिर लेनिन की मूर्ति गिराने के मामले में बुलडोजर ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया गया है। बुलडोजर को भी सीज कर दिया गया है। एसपी चक्रवर्ती के मुताबिक भाजपा समर्थकों ने बुलडोजर ड्राइवर को शराब पिलाकर इस घटना को अंजाम दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...