सबको लगता था ‘पापा’ आकर बचा लेंगे, कास ऐसा होता

नई दिल्ली: दिल्ली के बुराड़ी में एक ही घर में परिवार के 11 लोगों की मौत के मामले में पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आ गई है. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक, सभी 11 लोगों की मौत फांसी से हुई है. पहले ये बताया गया था कि बुजुर्ग महिला की मौत गला घोंटने से हुई है. अब ये भी कहा जा रहा है कि परिवार के कुछ लोगों ने दूसरे लोगों को लटकने में मदद की. किसी के शरीर पर विरोध के कोई सबूत नहीं मिले हैं. इस मामले में अब तक किसी बाबा या तांत्रिक का नाम नहीं आया है. पुलिस बेटे ललित को इस मास सुसाइड का मास्टरमाइंड मान रही है. पुलिस का कहना है कि ललित सपने में अपने पिता गोपालदास से बात करता था, जिनकी मौत 10 साल पहले हो चुकी है. पुलिस का कहना है कि ये भी कहा जा रहा है कि पिता से सपने में हुई बातचीत को वो रजिस्टर में लिखता था. इस मामले में पुलिस ने कई खुलासे किए हैं.

  • 4
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...