सर्दी का मौसम कैंसर रोगियों के लिए हो सकता है खतरनाक

0
49

सर्दी का मौसम कैंसर रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है। इसकी वजह इस मौसम में नमी अधिक होती है और कैंसर के मरीजों में कीमोथैरेपी या दूसरी दवाइयों के कारण इम्युनिटी घट जाती है। जिससे उनमें संक्रमण का खतरा अधिक हो जाता है। सावधानी बरतने की जरूरत अधिक रहती है। सामान्य लोगों की तुलना में कैंसर मरीजों के शरीर को अधिक गर्म रखने की जरूरत रहती है। इसके लिए ऊनी कपड़े पहनें। सिर, हाथ, पैरों को ढककर रखें। ठंडी हवाओं से खुद का बचाव करें। ठंडी चीजें जैसे आइसक्रीम, कुल्फी आदि से परहेज रखेंं।

आप मरीज नहीं तो बरतें ये सावधानी

भोजन को दोबारा गर्म करने और रेड मीट खाने से बचें। पोषण युक्त आहार से खतरा कम किया जा सकता है। सब्जियां, फल, फली, साबुत अनाज खानपान में शामिल करें। एंटीऑक्सीडेंट्स, विटामिन्स कैंसर कोशिकाओं को बढऩे से रोकते हैं। शक्कर कम लें।

खानपान में हमेशा रखें :

आहार में टमाटर, ब्रोकली, पत्तागोभी, लहसुन, अदरक, अंगूर, हल्दी, अलसी, नींबू, मौसमी व दालें लें।

यह खाने से बचें :

रेड मीट, कुकीज, फ्रेंच फ्राइज, फास्ट फूड, तला-भुना व मसालेदार खाना।

नियमित वॉक जरूरी

शारीरिक रूप से सक्रिय व वजन नियंत्रित रखकर बे्रस्ट, प्रोस्टेट, कोलोन कैंसर से बचा जा सकता है। लंबे समय तक सामान्य से अधिक वजन, अनियमित दिनचर्या से खतरा बढ़ता है। रोजाना करीब एक घंटे मिनट का व्यायाम जरूरी है। इसमें वॉक, ब्रिस्क वॉक, साइक्लिंग, स्वीमिंग व योग को दिनचर्या में शामिल करें।

कैंसर जैसे लाइलाज रोग में असरकारक है तुलसी

 

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...