सीरियल किलर की कड़ी सुरक्षा बीच कोर्ट में पेशी

प. बंगाल, कई लोगों को मौत की नींद सुला देने वाले साइकोकिलर उदयन दास को एक बार फिर रायपुर की जिला अदालत में पेश किया गया. उदयन दास करीब दो साल पहले उस वक्त सुर्ख़ियों में आया था, जब उसने भोपाल में अपनी प्रेमिका आकांक्षा को मौत के घाट उतार कर घर में ही उसकी कब्र बना दी थी. इससे पहले उसने रायपुर में अपने माता पिता की हत्या कर उन्हें भी अपने पैतृक घर में दफ्न कर दिया था.

तीन लोगों को बेरहमी से कत्ल करने वाला उदयन दास अब पश्चिम बंगाल के बांकुरा की जिला जेल में बंद है. सोमवार को जब तीन राज्यों की पुलिस अभिरक्षा में उदयन को अदालत परिसर में लाया गया तो लोगों के जेहन में उस खौफनाक घटना की यादें ताजा हो गईं. महंगी गाड़ियों शौकीन और हाईप्रोफाइल तरीके से जीवन यापन करने वाले उदयन दास ने सिलसिलेवार कत्ल करके तहलका मचा दिया था.

रायपुर की जिला अदालत में कड़ी सुरक्षा के बीच हत्या और आपराधिक साजिश के आरोपी उदयन दास को जज के कक्ष में ले जाया गया. इस सनसनीखेज हत्या कांड में अब तक 62 गवाहों के बयान दर्ज हो चुके हैं. सोमवार को अदालत में पांच महत्वपूर्ण गवाहों के बयान भी दर्ज किए जाने थे, लेकिन अदालत में केवल एक गवाह ही उपस्थित हो पाया.

रायपुर के सुंदर नगर इलाके में उदयन दास के माता पिता का पैतृक घर आज भी मौजूद है. हालांकि उदयन दास ने अपने माता पिता को मौत के घाट उतारने के बाद उनके फर्जी हस्ताक्षर और पॉवर ऑफ़ एटर्नी के जरिए उसे थर्ड पार्टी को बेच दिया था. पुलिस ने इस मामले में धोखाधड़ी का एक अन्य मामला दर्ज किया है.

उदयन दास की आपराधिक साजिश में यह बात भी सामने आई थी कि वो अपनी मां को मौत के घाट उतारने के बाद कई वर्षो तक फर्जी दस्तावेजों के जरिए उनकी पेंशन खुद लेता रहा. पेंशन की इस रकम को उसने अपने ऐशोआराम और जिस्मफिरोशी के शौक में उड़ाया.

इसके पहले उसने भोपाल में अपनी प्रेमिका आकांक्षा शर्मा की हत्या की थी. सोशल मीडिया के जरिए आकांक्षा और उदयन वर्ष 2007 में एक दूसरे के करीब आए थे. उसने आकांक्षा को अपने प्रेम जाल फंसा लिया था. आकांक्षा को उसने बताया था कि वो अमेरिकी नागरिक है और अपने माता पिता से मिलने अक्सर भोपाल आता है.

फिर कुछ वर्षो तक आकांक्षा और उदयन भोपाल में पति पत्नी के रूप में रहे. लेकिन जब उदयन की असलियत आकांक्षा के सामने आई तो दोनों के बीच जमकर नोकझोंक हुई. एक दिन उदयन ने आकांक्षा की हत्या कर उसकी लाश अपने घर में ही दफ्न कर दी थी.

 

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...