सैम कुरेन के खिलाफ गलत रणनीति से हारा भारत, कोहली जिम्मेदार: हुसैन

0
62

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन का मानना है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली का पहले टेस्ट मैच में बल्लेबाज के रूप में प्रदर्शन असाधारण रहा लेकिन उन्होंने उनकी कप्तानी पर सवाल उठाए और कहा कि ‘भारत की 31 रन से हार के लिए उन्हें भी कुछ जिम्मेदारी लेनी चाहिए.’

हुसैन ने स्काई स्पोर्ट्स से कहा, ‘कोहली का प्रदर्शन इस मैच में असाधारण रहा. जिस तरह से उन्होंने पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ बल्लेबाजी की उसे देखते हुए उन्हें जीतना चाहिए था. उन्होंने अपने दम पर भारत को मैच में वापसी दिलाई. मेरा हालांकि तब भी मानना है कि हार के लिए उन्हें भी थोड़ी जिम्मेदारी लेनी चाहिए.’

उन्होंने कहा, ‘इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट पर 87 रन था तथा कुरेन और आदिल क्रीज पर थे और तब रविचंद्रन अश्विन को एक घंटे तक गेंदबाजी नहीं सौंपी गई. भारत ने नियंत्रण खो दिया. उन्हें अपनी कप्तानी में पीछे मुड़कर देखना चाहिए और कहना चाहिए ‘जब मेरे पास ऐसा गेंदबाज है, जिसका बाएं हाथ के बल्लेबाजों के सामने औसत 19 है और बाएं हाथ का 20 वर्षीय बल्लेबाज खेल रहा है तब मैंने उसे गेंदबाजी से क्यों हटाया था.’

बाद टीम इंडिया को जीत के लिए 194 रनों का टारगेट मिला. इंग्लैंड ने अपने आठ बल्लेबाज 135 रनों पर ही खो दिए थे, लेकिन यहां से सैम कुरेन (63) ने तेजी से रन बटोरते हुए इंग्लैंड को इस स्कोर तक पहुंचाया. वह दूसरी पारी में इंग्लैंड के टॉप स्कोरर साबित हुए.

इंग्लैंड का स्कोर सात विकेट पर 87 रन था, लेकिन 20 वर्षीय ऑलराउंडर कुरेन ने 65 गेंदों पर 63 रन की पारी खेली जिससे उनकी टीम भारत के सामने चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखने में सफल रही. अपनी अर्धशतकीय पारी में उन्होंने 65 गेंदों का सामना किया और नौ चौकों के अलावा दो छक्के लगाए.

 

रूट ने सैम कुरेन की तारीफ की जिन्होंने दूसरी पारी में 65 गेंदों पर 63 रन बनाए. कुरेन को ‘मैन ऑफ द मैच’ चुना गया. इंग्लैंड के कप्तान ने कहा, ‘सैम कुरेन प्रतिभाशाली है. वह उदीयमान क्रिकेटर है. लग रहा था कि बल्लेबाजी करते हुए उस पर किसी तरह का दबाव नहीं था. हमें खुशी है कि वह हमारी टीम में है. यह टीम में दो बेन स्टोक्स के होने जैसा है. उससे हमें काफी संभावनाएं हैं.’

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...