सोशल मीडिया के इस्तेमाल से मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है खराब असर…

0
48

लड़कों की तुलना में ज्यादा समय बिताने वाली लड़कियों में अवसाद का खतरा ज्यादा होने की संभावना होती है।

यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन (यूसीएल) की यवोन्ने केली की अगुवाई में शोधकर्ताओं ने पाया कि करीब 40 फीसदी लड़कियां जो सोशल मीडिया पर एक दिन में पांच घंटे से ज्यादा समय बिताती हैं, उनमें अवसाद के लक्षण दिखते हैं। अवसाद की दर लड़कों में बहुत कम है। लड़कों में अवसाद की समस्या लड़कियों से 15 फीसदी कम है।

रॉयल कॉलेज ऑफ साइकियाट्रिस्ट्स के पूर्व अध्यक्ष साइमन वेस्ली के अनुसार, इस घटना की अंतर्निहत प्रक्रिया को सही से समझा नहीं गया है।

‘गार्जियन’ ने वेस्ली के बयान के हवाले से कहा कि शोधकर्ता अभी निश्चित तौर पर नहीं कह सकते हैं कि सोशल मीडिया के इस्तेमाल से मानसिक स्वास्थ्य पर खराब असर पड़ता है, लेकिन साक्ष्य इसी दिशा में संकेत देना शुरू कर चुके हैं।

इस शोध को ‘ईक्लिनिकलमेडिसीन’ पत्रिका में प्रकाशित किया गया है। इसमें शोध दल ने 14 साल की उम्र के करीब 11,000 लोगों के साक्षात्कार शामिल किए है। जिसमें ये नतीजे सामने आए।

दिनभर अपने ग्लूकोज स्तर की पूरी जानकारी और गंभीर हाइपोग्लाइसीमिया से बचने में मदद करेगा

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...