स्काउट गाइड प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर्स संगोष्ठी स्काउट का कार्य समाज और राष्ट्र निर्माण की दिशा में अनुकरणीय : झवेरी

0
105

महानगर संवाददाता
जयपुर। राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड, राज्य मुख्यालय, जयपुर के तत्वावधान में यहां जगतपुरा स्थित राज्य स्तरीय स्काउट गाइड प्रशिक्षण केन्द्र पर राज्य स्तरीय प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर्स की संगोष्ठी शनिवार को राजस्थान उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के.एस. झवेरी के मुख्य आतिथ्य एवं अतिरिक्त मुख्य सचिव व प्रदेश संगठन के स्टेट चीफ कमिश्नर जे.सी. महांति की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। मुख्य अतिथि न्यायाधीश के.एस. झवेरी ने अपने संबोधन में कहा कि राजस्थान में नैतिकता के स्तर में व्यापक सुधार लाने के लिए सुनागरिकता आवश्यक है। इसके लिए छात्रों को प्रारम्भ से ही सेवा, नैतिकता, राष्ट्र भक्ति, स्वच्छता आदि से जुड़ी गतिविधियों से जुडऩा, उनमें सक्रियता से भागीदारी करना आवश्यक है। स्काउटिंग गाइडिंग राष्ट्र में ऐसे कार्य करने में सबसे बड़े संगठन के रूप में जाना जाता है। यह संगठन विश्व स्तर का संगठन है जहां अनुशासन, स्वावलंबन और चरित्र निर्माण की शिक्षा दी जाती है। इस संगठन में शिक्षा विभाग के वरिष्ठ अध्यापक विभिन्न स्तर पर प्रशिक्षण प्राप्त कर स्वैच्छिक सेवाएं दे रहे हैं। ऐसे अधिकारियों की निष्ठा और कर्तव्यपरायणता पर झवेरी ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए बताया कि स्काउट का कार्य समाज और राष्ट्र निर्माण की दिशा में अनुकरणीय है। स्काउट गाइड अपने प्रत्येक कार्य को पूरे जोश और उत्साह से करते हैं। विद्यालयों में स्काउटिंग गाइडिंग से जुड़े आदर्श अध्यापक छात्र छात्राओं को नैतिकता की ओर अग्रसर कर सेवा पथ पर चलने के लिए प्रेरित कर सकते हैं।

कार्यक्रम में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित
स्वागत एवं संभागीत्व
संगोष्ठी के मुख्य अतिथि के.एस. झवेरी को स्टेट चीफ कमिश्नर जे.सी. महांति ने पुष्प गुच्छ भेंट कर अभिनंदन किया। संगोष्ठी में प्रदेश के सभी जिलों से कुल 92 जिनमें 60 स्काउट विभाग के प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर्स एवं 32 गाइड विभाग की प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर्स ने सहभागिता की।
इस अवसर पर स्टेट कमिश्नर (कार्यक्रम) रघुवीर सिंह शेखावत, स्टेट कमिश्नर (कब) सियाराम शर्मा, राज्य सचिव रविनन्दन भनोत, राज्य संगठन आयुक्त गोपाराम माली व शकुन्तला वैष्णव, राज्य प्रशिक्षण आयुक्त बन्नालाल एवं अन्य पदाधिकारी, अधिकारी व प्रशिक्षक मौजूद थे।

कार्यक्रम एवं प्रदर्शन
इस अवसर पर संभागी प्रभारी सहायक जिला कमिश्नर्स ने जिले के स्थानीय संघों में ग्रुपों की गतिविधियों के संचालन, मूल्यांकन और कार्य प्रणाली को जाना तथा ग्रुपों को कैसे सक्रिय और क्रियाशील रखा जाए, पर अपने-अपने विचारों से अवगत कराते हुए विचार-विमर्श किया। सभी जिला कमिश्नर्स ने आलवा के निर्देशन में मैसेंजर ऑफ पीस की गतिविधियों में भी सहभागिता की।
चीफ कमिश्नर ने भी किया संबोधित
अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं स्टेट चीफ कमिश्नर जे.सी. महांति ने अपने उद्बोधन में समारोह के मुख्य अतिथि को धन्यवाद अर्पित करते हुए कहा कि आपके चरित्र से हमें प्रेरणा मिलती है और हमें गर्व है कि इस संगठन को सदैव आपका सान्निध्य प्राप्त हुआ है। महांति ने बताया कि गुणात्मकता के साथ-साथ राजस्थान प्रदेश संगठन के स्काउट गाइड की संख्या पूरे देश में सर्वाधिक है। राजस्थान राष्ट्रीय स्काउट गाइड जम्बूरी में सदैव ही प्रथम स्थान प्राप्त करता रहा है। प्रदेश स्काउट गाइड संगठन ‘विजन-2024Ó के तहत सामाजिक सरोकारों से जुड़े 5 महत्वपूर्ण आयामों पर कार्य करने के लिए संकल्पबद्ध है। इसके तहत प्रदेश के 10 लाख से अधिक स्काउट गाइड नशा मुक्ति, सड़क सुरक्षा, वृद्धजन व दिव्यांगों की सेवा, जल स्वावलम्बन व स्वच्छता के क्षेत्र में विविध गतिविधियां व जन चेतना कार्यक्रम करते हुए अपनी अनुकरणीय सेवाएं देते रहेंगे। संगोष्ठी के संभागियों को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर चलाए जा रहे ‘मैसेन्जर ऑफ पीसÓ (एम.ओ.पी) कार्यक्रम के बारे में परिचय देने बैंगलूरू (कर्नाटका) सेएमओपी के कॉर्डिनेटर मधुसूदन आलवा ने शिरकत की। आलवा ने बताया कि वर्तमान में पूरा विश्व शांति के लिए चिंतनशील है।
्र?से में स्काउट गाइड संगठन का उत्तरदायित्व समाज व राष्ट्र के प्रति और अधिक ब? जाता है, क्योंकि स्काउट गाइड को शान्ति का दूत माना जाता है। स्काउट गाइड को तय मानकों के आधार पर उनके सेवा कार्यों के लिए स्काउट वल्र्ड अवार्ड से सम्मानित किया जाता है।

  • 3
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...