स्वाति मालीवाल ने पीएम पर बोला हमला

0
37
वहीं उनकी आर्थिक मदद करने की बात कहीं है, साथ ही पुलिस से जवाब भी मांगा की घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद अभी तक पुलिस ने क्या करवाई की. बाहरी दिल्ली के निहाल विहार इलाके में सात वर्षीय मासूम बच्ची की हत्या के मामले में सोमवार सुबह महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल पीड़ित परिवार से मिली।
स्वाति मालीवाल ने इस घटना पर दुख जताते हुए पीड़ित परिवार को कार्रवाई का आश्वासन देकर उनकी आर्थिक मदद करने की बात कहीं. साथ ही पुलिस से जवाब मांगा की घटना के 24 घंटे बीत जाने के बाद अभी तक पुलिस ने क्या करवाई की. साथ ही कहा कि रेप के मामले में क्यों नहीं फांसी की सजा हो रही है. प्रधानमंत्री मोदी जी से निवेदन करती हूं कि मैं अनशन से तब उठी जब उन्होंने मुझे गारंटी दी थी कि 3 महीने में सब स्थिती सुधार देंगे. मैं उनसे निवेदन करती हूं कि इस बच्ची के माता-पिता से मिलिए, मृत शरीर देखिए आपकी भी रूह कांप जाएगी. हर हाल में इस केस में 6 महीने में फांसी होनी चाहिए।
दरअसल बाहरी दिल्ली के निहाल विहार इलाके में शनिवार देर रात से लापता सात वर्षीय बच्ची का शव रविवार सुबह डीडीए पार्क के पास मिला था. जहां बच्ची के हाथ-पैर बंधे मिले, गले में भी रस्सी का फंदा लगा हुआ था.
[सिर में लगी है गंभीर चोट]
मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए नजदीकी अस्पताल के शवगृह में सुरक्षित रखवा दिया. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि बच्ची के सिर में गंभीर चोट के निशान हैं. आशंका जताई जा रही है कि बच्ची के साथ दुष्कर्म हुआ है. वहीं पुलिस अधिकारियों का कहना हैं कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इन बातों का खुलासा हो पाएगा. सात वर्षीय बच्ची अपने परिजनों के साथ निहाल विहार में रहती थी. वहीं बच्ची के पिता फैक्ट्ररी में काम करते हैं. बच्ची पास के स्कूल में दूसरी कक्षा की छात्रा थी।
शनिवार देर रात करीब नौ बजे बच्ची अपनी बहन के साथ चाऊमीन लेने गई थी. बहन घर आ गई थी लेकिन दूसरी नहीं आई. परिवार वालों ने बच्ची की काफी तलाश की लेकिन बच्ची का कोई अता-पता नहीं चला. उसके बाद परिजनों ने देर रात निहाल विहार थाने में बच्ची के गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवायी।
हालांकि की सोमवार सुबह ही पीड़ित परिवार के साथ स्थानीय लोगों ने बच्ची का शव सड़क पर रखकर प्रदर्शन किया. लोगों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी भी की. वहीं मामले की सूचना मिलते ही पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के मौके पर पहुंचे और लोगों को कार्रवाई का अश्वासन देकर शांत करवाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...