हरियाणा का ऐसा गांव जहां के लोगों ने कभी नहीं देखा टीवी

0
71

पानीपत। कहने को तो हम 21वीं सदी में रह रहे हैं. अगर आपने यमुना किनारे सटे जलालपुर द्वितीय गांव की तस्वीर देख ली तो ये यकीन करना शायद मुश्किल हो जाए. करीब दो हजार लोगों की अबादी वाले इस गांव में एक भी घर टीवी नहीं है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक तरफ देश को डिजिटल बनाने पर जोर दे रहे हैं. लेकिन इस गांव के हालात देखकर तो कतई नहीं लगता कि हम 21वीं सदी में हैं. सवाल ये भी खड़ा होता है कि क्या सच में टीवी लोगों की सभ्यता और धर्म के लिए खतरनाक है?

यहां बच्चों को ये तक नहीं पता कि सलमान खान कौन है. अमिताभ बच्चन कौन है. प्रधानमंत्री कौन है और राष्ट्रपति कौन है. गांव वालों का मानना है कि टीवी में अश्लीलता परोसी जाती है. जो उनके धर्म के लिए ठीक नहीं।
गांव की अबादी करीब 2 हजार के करीब है. हैरानी की बात ये है कि गांव के किसी भी घर में बरसों से टीवी नहीं है. यहां तक की लोग टीवी देखना पसंद ही नहीं करते।
मुस्लिम बाहुल्य इस गांव के बुजुर्ग ओर बच्चों के मुताबिक उन्होंने अपने जीवन में कभी टीवी पर कोई भी धारावाहिक नहीं देखा. शायद यही वजह है कि गांव के बच्चों को इतना तक नहीं पता कि प्रधानमंत्री या फिर प्रदेश का मुख्यमंत्री कौन है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...