हरियाली की वजह से एमडीयू को ऑक्सीजन जोन कहा जाता है

0
59
एचआरडी यूनिवर्सिटी ने हरियाणा के महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी को देश का सबसे स्वच्छ सरकारी यूनिवर्सिटी घोषित किया है. ये जानकारी मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने सोमवार को ‘स्वच्छ कैंपस रैंकिंग्स’ जारी करते हुए  दी।
इस यूनिवर्सिटी की खासियत है कि इस कैंपस काफी हरा भरा है. सैकडों एकड़ के कैंपस में पेड़ पौधों की कमी नहीं है। हरियाली की वजह से एमडीयू को ऑक्सीजन जोन कहा जाता है.हाईवे के पास और सिटी के बीच में होने के बावजूद यहां की हवा शहर से कई गुना साफ है।
ये खासियत जिसने बनाया सर्वश्रेष्ठ विश्वविद्यालय

  • करीब 7 सौ एकड़ क्षेत्र में है एमडीयू
  • बारिश के पानी को किया जाता है संरक्षित
  • 250 कर्मचारी रखते हैं सफाई का ध्यान
  • 70 कर्मी रखते हैं पेड़ पौधों का ख्याल
  • सोलर एनर्जी को भी किया जाता है प्रयोग
जब पहली बार निरीक्षण के लिए टीम कैंपस में पहुंची तो उन्होंने पहली नजर में ही इसे थ्री स्टार हॉस्टल की संज्ञा दे दी थी.मैस के बचे खाने भी यहां वेस्ट नहीं होता. किचन का रोजना बचा हुआ खाना पशु पालकों को दे दिया जाता है ई-वेस्ट के लिए स्टेक होल्डर रखे हुए हैं. हर जगह डस्टबिन भी रखे गए हैं।
दूसरे नंबर पर है जीएनडीयू
इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर पंजाब के अमृतसर का गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी है और नई दिल्ली का इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एंड बिलियरी साइंसेस तीसरे, कराईकुडी का अलगप्पा यूनिवर्सिटी चौथे और गुंटूर का आचार्य नागार्जुन यूनिवर्सिटी पांचवें स्थान पर है. जावड़ेकर ने निजी विश्वविद्यालय, महिला कॉलेज एवं तकनीकी संस्थान वर्ग में भी साफ-सफाई में श्रेष्ठ शैक्षणिक संस्थानों की घोषणा की।
  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...