हल्दी-अदरक का पेय,स्मोकिंग के दुष्प्रभावों से बचाएं

स्मोकिंग की वजह से मरने वाले लोगों की संख्या के मामले में भारत दुनिया के शीर्ष चार देशों की लिस्ट में शुमार है। स्मोकिंग की वजह से कैंसर, हर्ट अटैक, अल्सर, ओस्टिओपोरोसिस, स्ट्रोक और एम्फीजिमा जैसी बीमारियां होती हैं। सिगरेट में पाए जाने वाले निकोटिन की लत लग जाने की वजह से इसे छोडऩा मुश्किल हो जाता है। जब भी कोई इसे छोडऩे की कोशिश करता है तो उसे नींद में दिक्कत, मितली, चिड़चिड़ापन, बेचैनी और कॉन्संट्रेशन में परेशानी जैसे लक्षण दिखाई पड़ते हैं।  स्मोकिंग छोडऩे और शरीर को विषाक्त तत्वों से मुक्त करने के लिए आप प्राकृतिक उपायों का भी सहारा ले सकते हैं हल्दी में कैंसररोधी तत्व भारी मात्रा में पाए जाते हैं। हल्दी एंटी-इन्फ्लेमेट्री, एंटी-ऑक्सीडेंट, एंटी-कैंसर और एंटी-टॉक्सिटी गुणों से भरपूर होता है।  प्याज में एंटी-इन्फ्लेमेट्री गुण भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यह फेफड़ों के कैंसर से बचाव करने में सक्षम होते हैं।
रेसिपी –
अदरक रेसिपी बनाने के लिए आपको अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा. 400 ग्राम कटा हुआ प्याज, दो चम्मच हल्दी, एक लीटर पानी और थोड़े से शहद की जरूरत पड़ती है। सबसे पहले पानी में अदरक और प्याज को मिलाकर उबाल लें। पानी में थोड़ा और अदरक मिलाएं और फिर हल्दी डाल दें। गैस की आंच कम कर दें और सामग्री को कुछ देर उबलने दें। दिन में दो बार या फिर जब भी आप स्मोक करें, इस मिश्रण को पीना शुरू कर दें। इससे आपके फेफड़े साफ रहेंगे और आप स्मोकिंग के तमाम दुष्प्रभावों से बच जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...