हादसा या साजिश: घर में आग लगने से दादा-पोती समेत 5 की मौत

0
88
fire-in-house-pollice

जयपुर। विधाघर नगर थाना इलाके में शनिवार तडके अज्ञात कारणों के चलते घर में लगी आग से एक ही परिवार के पांच जनों की दर्दनाक मौत हो गई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने आग बुझाकर अन्दर जाकर वीभत्स मंजर देखकर मौके पर मौजूद लोगों की रुह कापं उठी। पुलिस ने तत्काल सभी शवों को कब्जे में लेकर मुर्दाघर में पहुंचाया। आग कैसे लगी अभी तक पुलिस पुलिस किसी नतीजे पर नही पहुंव पाई है लेकिन जिस तरह मकान की वायरिंग जली उससे लगता है कि आग शार्ट सर्किट से लगी है। पुलिस एफएसएल की मदद से पूरे मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने बताया कि सैक्टर नम्बर 9 मकान नम्बर 39 विधाधर नगर निवासी संजय गर्ग अपनी पत्नी के साथ रात में ही आगरा चला गया। घर पर पिताजी महेन्द्र गर्ग, दो बेटिया अर्पूवा,अर्पिता बेटा अनिमेष और भानजा शोर्य घर पर सौ रहे थे। शनिवार तडके करीब 3 बजे अचानक पूरे घर में आग लग गई और देखते ही देखते आग ने पूरे घर को अपनी चपेट में ले लिया जिससे नीचे कमरे में सौ रहे महेन्द्र अर्पिता और अपूवा जिंदा जल गई और ऊपर सौ रहे अनिमेष और शौर्य की दम घुटने से मौत हो गई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस और लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया। लेकिन आग फैलती गई और पूरा मकान खाक हो गया। जब पुलिस अन्दर पहुंची तो जले हुए शव देखकर लोगों की रुह कांप गई। सूचना पर पुलिस आयुक्त से लेकर सभी आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और मौका मुआयना किया। शुरुआती जांच में शार्ट सर्किट से आग लगने और गैस सलेण्डर में विस्फोट की बात सामने आई है। पुलिस ने सभी शवों को कब्जे में लेकर अस्पताल में पहुंचाया दिया। जहां पर पोस्टमार्टम होगा।

सुरक्षा की दृष्टि से पूरा घर पैक था
संजय गर्ग का पूरा मकान सुरक्षा की दृष्ट्रि से पैक बना हुआ था। मकान के पीछे भी लोहे की जाली लगी हुई है। जिससे कोई आग लगने पर हादसा होने पर घर के अन्दर मौजूद लोगों को निकालने में काफी परेशानी का सामने करना पडता है। आग लगने के बाद नीचे दो कमरे में सौ रहे लोब जिंदा जल गए लेकिन निकल नही पाए है।

एक घटे के बाद अधूरे सामान लेकर पहुंच दमकले
आग लगने की सूचना तत्काल पुलिस को और फायर बिग्रेड के आफिस दे दी गई उसके बावजूद एक घंटे के बाद एक दमकल मौके पर पहुंची लेकिन ना तो ऊपर जाने के लिए सीढिया थी ना ही आग बुझाने के संसाधन जिससे आग पर समय रहते काबू पाया नही जा सका। जिसको लेकर लोगों में जबर्दस्त आक्रोश व्याप्त है।

लोग पहुंचे मदद के लिए
जैसे ही लोगों को सूचना मिली मदद के लिए मौके पर पहुंचे गए ढेहर बालाजी अग्रवाल समाज के अघ्यक्ष दिनेश मित्तल,मंगलम सरिया वाले सीताराम अग्रवाल ,प्रेम पोददार सहित काफी संख्या में लोग मौके पर पहुंचे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...