चीनी सेना की लद्दाख और उत्तराखंड में हिमाकत

0
72

चीनी सेना की हिमाकत लगातार बढ़ती जा रही है. ITBP की एक खुफिया रिपोर्ट में ये सनसनीखेज खुलासा हुआ है कि इस साल अगस्त माह में चीनी सेना पीएलए ने चार से 19 तारीख के बीच लद्दाख में 14 दिनों में कुल 14 बार घुसपैठ की है. लद्दाख के अलावा उत्तराखंड में भी तीन जगहों पर चीनी सेना एलओसी के भीतर चार किलोमीटर तक घुस आई।

घुसपैठ की ये वारदातें ट्रिग हाइट्स, दौलत बेग ओल्डी, डेसपैंग और पैंगोंग इलाके में हुई हैं. हैरान करने वाली बात ये है कि चीनी सेना लाइन ऑफ कंट्रोल पर अलग-अलग इन चार जगहों पर 6 से लेकर 18 किलोमीटर भीतर तक घुस आई।

इसके अलावा उत्तराखंड में भी तीन जगहों पर घुसपैठ की खबर है. चीनी सेना इन जगहों पर चार किलोमीटर भीतर तक आ गई थी. घुसपैठ की ये सभी घटनाएं अगस्त माह में ही हुई हैं।

इससे पहले चीनी सेना ने उत्तराखंड के बाराहोती इलाके में जुलाई के पहले सप्ताह में ताबड़तोड़ घुसपैठ की. ITBP सूत्रों के मुताबिक चीनी सैनिकों (PLA) ने 10 जुलाई को बाराहोती के तुनजून ला के पास बाइक के जरिए घुसपैठ की थी. बताया जा रहा है कि एक चीनी सैनिक बाइक पर सवार था और करीब 500 मीटर अंदर बाराहोती के इलाके में घुस आया।

ITBP सूत्रों ने बताया कि चीनी सैनिकों ने जुलाई के महीने में करीब 5 बार बाराहोती इलाके में घुसपैठ की है. 8 जुलाई को चीन के 32 सैनिकों ने आधा दर्जन छोटी गाड़ियों के जरिए घुसपैठ की थी और यहां के होतीगाद इलाके में करीब 4 किलोमीटर अंदर चीनी सैनिक घुस आए थे. इन गाड़ियों के साथ – साथ 8 जुलाई को ही एक दर्जन चीनी सैनिक घोड़े पर सवार होकर आए थे।

चीन ने 15 मई से लेकर 31 मई के बीच में  भी भारत-चीन सरहद के कई इलाकों में 15 बार घुसपैठ की थी।

चीनी सैनिकों ने लद्दाख के अलावा अरुणाचल प्रदेश के कई इलाकों में भी 16 मई से लेकर 31 मई के बीच में घुसपैठ की. खुफिया सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक अरुणाचल प्रदेश के आशाफिला इलाके में 25 मई को चीन की तरफ से घुसपैठ की गई. इसमें चीनी सैनिकों का 21 लोगों का “स्प्लिंटर ग्रुप” भारतीय सीमा के अंदर घुसपैठ किया।

 

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...