700 करोड़ का घोटाला, टीम इंडिया के युवराज सिंह की मां हुईं शिकार

0
71
प्रवर्तन निदेशालय इस मामले की मनी लांड्रिंग एक्ट के तहत जांच कर रहा है. प्राथमिक जांच में सामने आया है कि साधना एंटरप्राइजेज नाम की यह पोंजी कंपनी शबनम और अन्य लोगों से उगाहे गए पैसे को बिटक्वाइन जैसी वर्चुअल करेंसी में निवेश कर रही थी. ईडी अधिकारियों के अनुसार, ये घोटाला करीब 700 करोड़ रुपये का लग रहा है और इसके तार हवाला कारोबार से जुड़े होने की संभावना सामने आई है।

युवराज की मां समेत इस पोंजी स्कीम में पैसा निवेश करने वाले सभी निवेशक भी ईडी के रडार पर हैं. ईडी के सहायक निदेशक रंजन कुमार मिश्रा ने शबनम सिंह को पत्र लिखकर उनसे इस कंपनी के साथ हुए लेनदेन का ब्योरा और निवेश का उद्देश्य पूछा है. शबनम का इनकम टैक्स रिकॉर्ड भी जांचा जा रहा है. ईडी सूत्रों के अनुसार, अन्य निवेशकों के रिकॉर्ड भी जांचे जा रहे हैं.

[मैंने कुछ गलत नहीं किया- शबनम]
उधर, एक अंग्रेजी अखबार से शबनम ने बताया कि इसमें उनके द्वारा कुछ भी गलत नहीं किया गया है नाहि ईडी ने उन्हें कोई नोटिस भेजा है. उन्होंने बताया कि ईडी ने कुछ कागजातों पर जवाब मांगा था. उन्होंने सभी कागजात अपने जवाब समेत जांच एजेंसी को भेज दिए हैं।
  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...