8 अगस्त तक पीजी डिग्री-डिप्लोमाधारी चिकित्सकों को ड्यूटी ज्वाइन करने के निर्देश

0
45
DEMO PIC

जयपुर। प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों से विभिन्न विशिष्टताओं में सेवारत कोटे से पीजी डिग्री या डिप्लोमा पूर्ण करने वाले चिकित्सकों को अपने पदस्थापन चिकित्सा संस्थानों पर 8 अगस्त तक आवश्यकरूप से ड्यूटी ज्वाइन करने के निर्देश दिये गये हैं। इस अवधि में ड्यूटी ज्वाइन नहीं करने वाले चिकित्सकों के विरूद्घ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।

निदेशक जनस्वास्थ्य डॉ. वी.के.माथुर ने एक आदेश जारी कर सभी पदस्थापित पीजी डिग्री एवं डिप्लोमाधारी चिकित्सकों को 8 अगस्त तक आवश्यकरूप से अपने नवीन पदस्थापन चिकित्सा केन्द्रों पर कार्यग्रहण करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने बताया कि सेवारत कोटे से पीजी अथवा डिप्लोमा करने के उपरांत 27 जुलाई 2018 को इन चिकित्सकों का नवीन पदस्थापन किया गया था।

उन्होंने बताया कि 8 अगस्त 2018 तक कार्यग्रहण नहीं करने वाले चिकित्सकों के विरूद्घ अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए बॉड राशि की वसूली की कार्यवाही राज्य सरकार द्वारा की जायेगी। इसके साथ ही ऐसे चिकित्सकों का राजस्थान मेडिकल कौंसिल से पंजीयन निरस्त करने की कार्यवाही भी की जा सकती है।
ज्ञात रहे कि वर्ष 2017 एवं पूर्व वर्षाें में सेवारत कोटे से पीजी डिग्री/डिप्लोमाधारी चिकित्सकों ने कार्यग्रहण नहीं किया है, उनके विरूद्घ अनुशानात्मक कार्यवाही एवं बॉड राशि की वसूली की कार्यवाही आरंभ कर दी गयी है।

 

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...