राजनीती में उतरेंगे अक्षय खन्ना, विनोद खन्ना की सीट पर लड़ सकते हैं चुनाव

0
39

पंजाब में भाजपा अपने पुराने सहयोगी शिरोमणि अकाली दल के साथ मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ रही है। राज्य की 2 लोकसभा सीटों पर इन दिनों गहन मंथन हो रहा है। गठबंधन में चुनाव लड़ रही बीजेपी को 3 सीटों पर अपने उम्मीदवार तय करने हैं। इनमें से 2 सीटें गुरदासपुर और होशियारपुर को लेकर पार्टी अभी तक उम्मीदवार तय नहीं कर पाई है।गुरदासपुर सीट विनोद खन्ना की मौत के बाद पार्टी ने स्वर्ण सलारिया को चुनाव मैदान में उतारा था लेकिन उनकी हार के बाद अब पार्टी किसी बड़े चेहरे को इस सीट से उतारना चाहती है। इस सीट पर अभी कांग्रेस के सुनील जाखड़ सांसद हैं। रिपोर्ट के मुताबिक भाजापा अब विनोद खन्ना की पत्नी कविता खन्ना या फिर उनके बेटे अक्षय खन्ना को टिकट देने पर विचार कर रही है।

विनोद खन्ना चार बार गुरुदासपुर सीट से सांसद रहे। गुरुदासपुर के लोगों के बीच वो आज भी काफी लोकप्रिय हैं। विनोद खन्ना की मृत्यु के बाद उनकी पत्नी कविता खन्ना को चुनाव मैदान में ना उतारे जाने से वह पार्टी से नाराज चल रही थीं।

फरवरी में गुरुदासपुर रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी विनोद खन्ना के नाम का जिक्र व्यापक तौर पर किया था। रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी के एक नेता ने कहा, ‘अगर कविता खन्ना को कोई परेशानी नहीं है तो अक्षय खन्ना को यहां से उम्मीदवार बनाया जाएग। अक्षय खन्ना को बॉलीवुड अभिनेता की छवि से फायदा हो सकता है और वह जाखड़ के लिए कड़ी चुनौती बनेंगे।’

बता दें कि विनोद खन्ना ने 1998 में पहली बार गुरदासपुर का चुनाव जीता था। 1999, 2004 और 2014 में भी विनोद खन्ना इस सीट से जीत हासिल करने में कामयाब रहे। 2009 में विनोद खन्न को प्रताप सिंह बाजबा के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

कर्मचारी को डेबिट और क्रेडिट कार्ड से क्लोनिंग करने पर पुलिस ने किया गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...