जयपुर में शाह का शाही स्वागत

0
59

जयपुर। एयरपोर्ट से सुबह सीधे मोतीडूंगरी गणेश मंदिर पहुंचकर भगवान गणेश का पूजन कर आशीर्वाद लेने के बाद शाह आदर्श नगर स्थित सूरज मैदान में शक्ति केंद्र सम्मेलन में कार्यकर्ताओं के बीच पहुंचे। शाह ने शाम को शहर के बुद्धिजीवी वर्ग से रूबरू होकर चुनावी साल में उनकी नब्ज टटोली।

सम्मेलन में शाह ने कहा कि प्रत्येक कार्यकर्ता को अपने क्षेत्र के पांच गांवों में जाकर पार्टी का चुनावी धरातल मजबूत करना होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिटीजन अमेंडमेंट बिल लेकर आए हैं जिसमें हमने तय किया है कि अफगानिस्तान, पाकिस्तान एवं बांग्लादेश से आए सिख, हिंदू, बौद्ध एवं जैन घुसपैठिए नहीं बल्कि शरणार्थी हैं और उनको यहां नागरिकता मिलेगी।

जयपुर संभाग के शक्ति केंद्र सम्मेलन में भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ओम माथुर, राजस्थान भाजपा संगठन प्रभारी अविनाश राय खन्ना, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मदनलाल सैनी, जयपुर ग्रामीण सांसद राज्यवर्धनसिंह राठौड़, जयपुर शहर सांसद रामचरण बोहरा, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी, किशनपोल विधायक मोहनलाल गुप्ता, मालवीय नगर विधायक कालीचरण सराफ, हवामहल विधायक सुरेन्द्र पारीक सहित जयपुर संभाग के दौसा, अलवर, जयपुर शहर और जयपुर ग्रामीण क्षेत्र के बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे।

                  भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने ली कार्यकर्ताओं की क्लास

निकाय प्रतिनिधियों को पिलाई जीत की घुट्टी
बिड़ला ऑडिटोरियम में नगरीय निकायों के शहरी जनप्रतिनिधियों के सम्मेलन में पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने प्रदेश भर के निकायों से आए पार्षदों को घर-घर जाकर पार्टी के प्रचार अभियान में अभी से जुट जाने का आह्वान किया। शाह ने कहा कि प्रदेश की सबसे छोटी इकाई के रूप में किसी भी शहर का वार्ड क्षेत्र बहुत मायने रखता है, ऐसे में वार्ड के पार्षद सक्रियता दिखाते हुए अपने क्षेत्र के अंतिम छोर तक बसे लोगों को एप्रोच कर पार्टी की रीति-नीति से अवगत करवाते हुए उनको भाजपा को वोट देने के लिए प्रेरित करें। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि राजस्थान में नगरीय निकाय हैं इनमें से 100 से ज्यादा भाजपा के कब्जे में हैं। ऐसे में पार्टी के नगरीय निकायों का इतना बड़ा कुनबा प्रचार में जुटेगा तो निश्चित ही सफलता मिलेगी।

बुकलेट के माध्यम से गांव-गांव प्रचार करें सहकारिता जनप्रतिनिधि
सूरज मैदान में आयोजित तीसरे कार्यक्रम सहकारिता सम्मेलन में शाह ने कहा कि सहकारिता जनप्रतिनिधियों को देहाती क्षेत्रों में पार्टी की जड़ें मजबूत करने का बीड़ा उठाना है, इसके लिए वे राज्य एवं केंद्र सरकार की उपलब्धियों की बुकलेट बनाकर गांव-गांव बांटें। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव की जीत से ही आने वाले लोकसभा चुनाव में जीत की राह आसान हो सकेगी, ऐसे में सहकारिता जनप्रतिनिधियों को गांवों में फील्ड वर्क पर फोकस करना होगा, क्योंकि ग्रामीण जनता का जनादेश ही देश की राजनीति की दिशा और दशा तय करता है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...