भाजपा राज में लोकतंत्र खतरे में : अखिलेश

0
108

इटावा। समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी पर आज अपने गृहनगर में बड़ा आरोप लगाया है। इटावा में आज सामाजिक न्याय साइकिल यात्रा को इटावा से नई दिल्ली रवाना करने के बाद अखिलेश ने कहा कि भाजपा को किसी भी कीमत पर अब सत्ता में आने से रोकने का काम करना है। भाजपा अगर फिर सत्ता में आ गई तो देश से लोकतंत्र खत्म हो जाएगा।

इटावा के सैफई में अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा के राज में लोकतंत्र खतरे में है। अब देश को जातिवाद व साम्प्रदायिकता की आग में झोंका जा रहा है। केद्र सरकार दलितों के खिलाफ काम करने वाली है, केंद्र सरकार दलितों की हितैषी कतई नहीं है।

उन्होंने कहा कि यह साइकिल यात्रा विकास यात्रा है, अगर यह सफल हो गई तो देख में लोकतंत्र बचेगा। अगर देश में दोबारा भाजपा की सरकार आई तो लोकतंत्र देश से खत्म हो जाएगा। इसी कारण भाजपा को रोकने के लिए अभी से जुट जाएं। उन्होंने कहा कि भाजपा वालों ने गंगा माता को ही धोखा दे दिया। जब तक उसकी सहायक नदियों की सफाई नहीं होगी तब तक गंगा साफ नहीं होगी।

यादव ने प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि अभी तक जितनी भर्ती की सभी के पेपर लीक हो गए। ऐसा किसी सरकार में नहीं हुआ। आने वाले समय में सपा सरकार में पुलिस भर्ती जिस तरीके से हमने कराई थी उसी तरीके से कराई जाएगी। भाजपा सरकार ने दलितों और पिछड़ों की नौकरियां छीनी हैं। आज देश तथा प्रदेश में बेरोजगारी बढ़ी है। किसानों को पैदावार की लागत नहीं मिल पा रही है।

यादव ने सैफई महोत्सव पंडाल में गाजीपुर से चलकर सैफई पहुंची सामाजिक न्याय एवं प्रजातंत्र बचाओ, देश बचाओ साइकिल यात्रा को आगे रवाना किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अधिक गन्ना पैदा होने से डायबिटीज होने के बयान पर उन्होंने कहा कि वह तो बड़े डाक्टर हैं।

जिन्होंने बिना कोई जांच के ऐसा बयान दे दिया। उन्होंने कहा कि चुनाव आ रहा है जातिगणना की बात शुरू हो गई है। बेहतर यह होगा कि सभी को आधार से जोड़ दिया जाए और सब जातियों की गिनती हो जाए। अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी लोग विकास की बात करते हैं जबकि भाजपा के लोग कहते हैं कि जहां नाला दिख जाए वहीं आग लगाकर पकौड़े बनाना। हमने एक्सप्रेस-वे 22 महीने में बना दिया वे 19 महीने में ही बना कर दिखा दें।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...