परीक्षा में बोर्ड के उड़नदस्ते ने मारा छापा, टीचर को मोबाइल फोन से नकल कराते पकड़ा

0
74

हरियाणा बोर्ड की परीक्षा में बोर्ड के उड़नदस्ते ने राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल जैकबपुरा में छापा मारकर एक टीचर को मोबाइल फोन से नकल कराते पकड़ा है। संस्कृत के इस टीचर के पास से बोर्ड की टीम ने नकल सामग्री भी बरामद की है। उड़नदस्ते टीम को गुमराह करने के आरोप में केंद्र अधीक्षक पर कार्रवाई हुई है। उसे तत्काल प्रभाव से ड्यूटी से मुक्त कर विभागीय कार्यवाई के लिए रिपोर्ट बोर्ड कार्यालय और जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में भेज दी गई है।

बोर्ड के कंट्रोल रूम अधीक्षक भूपेंद्र ने बताया कि बुधवार को जैकबपुरा स्कूल में आयोजित परीक्षा का उड़नदस्ते ने औचक निरीक्षण किया। इस दौरान पूरे केंद्र में अव्यवस्था की स्थिति थी। उड़नदस्ते की सूचना मिलते ही परीक्षार्थी इधर से उधर भागने लगे।

इसी दौरान उड़नदस्ते की टीम ने एक शिक्षक को 12वीं कक्षा के बच्चों को फाइन आर्ट्स में नकल कराते हुए पकड़ लिया। इस संबंध में जब केंद्र अधीक्षक सुरेंद्र कुमार से पूछताछ की गई तो उन्होंने सीधा जवाब देने के बजाय उड़नदस्ते को गुमराह करने का प्रयास किया। बताया कि पकड़े गए शिक्षक अनिल की ड्यूटी केंद्र पर ही है, लेकिन जब रिकार्ड देखा गया तो उसमें शिक्षक का कोई ब्योरा नहीं मिला। इसके बाद उसके खिलाफ कार्रवाई की गई।

स्पेन में छाया गुमनाम रॉबिनहुड, लोग ढूंढ रहे हैं पहचान

मोबाइल में मिला प्रश्नपत्र

उड़नदस्ते ने शिक्षक अनिल का मोबाइल जब्त करते हुए आगे की कार्रवाई के लिए फाइल जिला शिक्षा अधिकारी और बोर्ड कार्यालय को भेज दिया है। बोर्ड के कंट्रोल रूम अधीक्षक के मुताबिक शिक्षक के मोबाइल में परीक्षा का प्रश्न पत्र मिला है। जांच में पता चला है कि शिक्षक अनिल कुमार गुडगांव स्थित स्कूल में अपनी हाजिरी लगाकर यहां नकल कराने के लिए आया था। उड़नदस्ते की जांच में पाया गया है कि इस शिक्षक को खुद केंद्र अधीक्षक ने ही नकल कराने के लिए बुलाया था। उल्लेखनीय है कि गुरुग्राम के ग्रामीण इलाकों के नकल के मामले की खूब सामने आ रहे हैं। सबसे खास बात यह है कि हिंदी की परीक्षा में नकल करते छात्र पाए गए।

40 नकल के मामले पकड़े

अधीक्षक भूपेंद्र ने बताया कि बुधवार को 10वीं और 12वीं की परीक्षा में बोर्ड के उड़नदस्ते द्वारा 40 नकलची छात्रों को पकड़ा गया है। इन सभी क छात्रों के खिलाफ नकल का मामला बनाकर आगे की कार्रवाई के लिए बोर्ड कार्यालय भेज दिया गया है। इनमें से नकल के दो मामले गुरुग्राम से पकड़े गए हैं। इसके अलावा 38 मामले फरीदाबाद, पलवल, नूंह और रेवाड़ी जिलों के हैं।

उड़नदस्ते द्वारा जैकबपुरा स्कूल के केंद्र अधीक्षक का कार्य संतोषजनक नहीं होने के कारण उसको ड्यूटी से हटा दिया है। जैकबपुरा स्कूल में दूसरे केंद्र से अधीक्षक को नियुक्त कर दिया गया है। शिक्षक द्वारा नकल कराना निंदनीय है। ऐसे में शिक्षक के खिलाफ कारवाई की जाएगी।

—————————————————————————————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...