सेहतमंद रहने के लिए जरूरी होता है सुबह का नाश्ता

0
21

सेहतमंद रहने के लिए सुबह का नाश्ता बहुत जरूरी होता है। यह न केवल आपको स्वस्थ रखता है, बल्कि कई खतरनाक बीमारियों से बचाता भी है। इससे आपका तन और मन दोनों स्वस्थ रहते हैं और आप दिनभर ऊर्जा से भरे होते हैं। विशेषज्ञों की मानें, तो एक अच्छा नाश्ता दिन की महत्वपूर्ण शुरुआत है। यह आपको अपने कामकाज को बेहतर तरीके से करने के लिए भरपूर ऊर्जा उपलब्ध कराता है। आपका नाश्ता कैसा होना चाहिए और इसके फायदे क्या हैं, बता रहे हैं अभय मोदी

एक अच्छा नाश्ता खाने से कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। यदि आप अपने स्वास्थ्य के बारे में गंभीर हैं और अपना वजन कम करना चाहते हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप नियमित रूप से नाश्ते का सेवन करें।

करें फलों का सेवन 
आप सुबह के नाश्ते में अपने पसंदीदा फलों का सेवन कर सकते हैं। सेब, केला, अनार, संतरा आदि फलों का सेवन बहुत ही फायदेमंद होता है। आप चाहें तो फलों की स्मूदी बनाकर भी पी सकते हैं। आपके लिए बनाना शेक भी सर्वोत्तम आहार हो सकता है। इसके लिए केले को ब्लैंड कर उसमें दूध और ड्राई फ्रूट्स मिलाकर सेवन कर सकते हैं।

अंडे का सैंडविच 
सुबह के नाश्ते में अंडे का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। इसके सेवन से शरीर का स्टेमिना बढ़ता है। अंडे में प्रोटीन की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। यह मसल्स को मजबूत बनाता है। नाश्ते के तौर पर आप अंडे का सैंडविच खा सकते हैं। इसके लिए आप अंडे को पहले छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें और इसे ब्राउन ब्रेड पर रखें। इसके बाद ऊपर से जरा सा नमक मिला लें। इसके ऊपर आधा चम्मच शहद डालें। आप चाहें तो थोड़ी मेयोनीज भी मिला सकते हैं।

10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा में बच्चो ने प्रश्नों के जवाब के साथ दिए अनोखे जवाब

ब्रेड जैम के साथ पीनट बटर 
कई बार आप घर से जल्दी निकलने के चक्कर में नाश्ता नहीं करते या भूल जाते हैं। ऐसा करना सेहत के प्रति नाइंसाफी है। अगर आपके पास समय कम है, तो आप झटपट नाश्ते का भी विकल्प रख सकते हैं। इसके लिए आप दो ब्रेड लें, एक पर मूंगफली का मक्खन (पीनट बटर) लगाएं और दूसरे ब्रेड पर जैम लगाएं। दोनों को जोड़ दें। अब आपका सुबह का सबसे आसानी से बनने वाला और हेल्थी नाश्ता तैयार है।

ओट्स 
ओट्स घुलनशील फाइबर से भरपूर होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करते हैं। ये घुलनशील फाइबर आंतों के संक्रमण की आशंका घटाने और ग्लूकोज अवशोषण को कम करने में मदद करते हैं। ओट्स में बीटा ग्लूकेन भी होता है, जो एक लिपिड कम करने वाला एजेंट होता है। नाश्ते का स्वस्थ विकल्प है यह। इसे आप फलों व मेवों के साथ भी ले सकते हैं।

उपमा और पोहा 
गुजरातियों में ये आहार काफी प्रचलित हैं। उपमा या पोहा बहुत हेल्दी नाश्ते हैं। इसको पौष्टिक और स्वादिष्ट बनाने के लिए आप इसमें मटर, प्याज, आलू व अपनी पसंद की अन्य सब्जियां डाल सकते हैं। ऐसा करने से आपको स्वाद और पोषण दोनों मिलेंगे। इससे सुबह आपका पेट भरा रहेगा और आप पूरी ऊर्जा के साथ अपना काम कर सकेंगे।

लो कैलरी ब्रेकफास्ट 
सप्ताह के पहले दिन आप लो कैलरी नाश्ते से शुरुआत कर सकते हैं। इसके लिए मैक्सिकन खाना सही माना गया है, क्योंकि इसमें कैलरी और वसा की मात्रा काफी कम होती है। आप चाहें तो ब्रेकफास्ट बरीटो से दिन की शुरुआत कर सकते हैं। इसमें आप अंडे की सफेदी को रैप करके खा सकते हैं।

वेजिटेबल जूस 
वेजिटेबल यानी सब्जियों का जूस पीना स्वास्थ्यवर्धक है। सब्जियों को रस के रूप में सेवन करने पर शरीर पोषक तत्वों को बहुत बेहतर तरीके से अवशोषित करता है। स्वाभाविक रूप से रस पीने से आपके शरीर को उच्च स्तर के पोषक तत्व और एंटीऑक्सिडेंट की आपूर्ति हो सकती है। सुबह के नाश्ते में एक गिलास वेजिटेबल जूस आपको ऊर्जा से भर देगा।

क्यों जरूरी है नाश्ता 
नाश्ता ऊर्जा प्रदान करने के अलावा नाश्ते के खाद्य पदार्थ कैल्शियम, आयरन, विटामिन बी, प्रोटीन और फाइबर जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों का अच्छा स्रोत हैं। शरीर को इन आवश्यक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है और शोध से पता चलता है कि अगर नाश्ता छूट जाए तो बाद में शरीर के लिए जरूरी बहुत सारे पोषक तत्वों की भरपाई होने की संभावना नहीं रहती है।

नाश्ता करने के 5 फायदे
कम होता है टाइप 2 डायबिटीज का खतरा 
नियमित रूप से अच्छा नाश्ता कर हम डायबिटीज से दूरी बनाए रख सकते हैं। एक अध्ययन में शोधकर्ताओं ने पाया कि जो लोग नियमित रूप से नाश्ता करते हैं, उनमें डायबिटीज का खतरा लगभग 30% कम हो जाता है।

भूख में कमी आती है 
अध्ययनों से पता चला है कि सुबह नाश्ते में पहली चीज का सेवन करने से बार-बार भूख नहीं लगती। बहुत सारे लोग अतिरिक्त कैलरी खाने से बचने के लिए नाश्ते को छोड़ देते हैं, लेकिन सुबह-सुबह उच्च फाइबर, पोषक तत्वों से भरपूर नाश्ता खाने से आपको दिनभर भूखे रहने की आशंका कम होती है।

आप कम खाते हैं 
सुबह नाश्ता करने से भूख कम हो जाती है, जिससे आप भोजन कम करते हैं। 2011 में जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन द्वारा किए गए एक अध्ययन में पाया गया कि जो लोग नाश्ता करते हैं, वो दिनभर कम भोजन करते हैं। जो लोग नाश्ता नहीं करते, उन्हें बार-बार खाने का मन करता है, जो ठीक नहीं।

याददाश्त में होता है सुधार 
स्वस्थ मस्तिष्क के कामकाज के लिए कार्बोहाइड्रेट आवश्यक है। अपने दिन की शुरुआत करने के लिए उच्च गुणवत्ता वाले नाश्ते का सेवन कर आप अपनी याददाश्त और एकाग्रता के स्तर में सुधार कर सकते हैं, साथ ही अपने मूड और तनाव को भी सुधार सकते हैं। बच्चों के बीच हुए विभिन्न अध्ययनों से पता चला है कि जो बच्चे नाश्ता करते हैं, वे ज्ञान संबंधी कौशल में सुधार करते हैं और स्कूल में बेहतर प्रदर्शन करते हैं।

मोटापे का खतरा नहीं 
यूरोप में 2010 में हुआ एक अध्ययन क्रिटिकल रिव्यू इन फूड साइंस एंड न्यूट्रीशन में प्रकाशित किया गया था, जिसके अनुसार, नियमित रूप से नाश्ता करने वालों में मोटापे का खतरा कम होता है।

—————————————————————————————–

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...