चैनल पर दिखने वाला एंकर असली है या नकली

0
23

नई दिल्ली: चीन में यह पता लगाना मुश्किल होगा कि समाचार टीवी चैनल पर दिखाई देने वाला व्यक्ति असली है या फिर मशीन है। दरअसल चीन की सरकारी आभासी एंकर खबर पढ़ते नजर आएंगे। कंपनी ने दर्शकों के सामने गुरुवार को आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित एक आभासी समाचार वाचक पेश किया। रोचक बात यह है कि इसे देखकर यह अंदाजा लगाना मुश्किल है कि यह वास्तविक इंसान नहीं है। यह एंकर ठीक पेशेवर न्यूज एंकर की तरह खबरें पढ़ सकता है। माना जा रहा है कि हमारी जिंदगी में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मौजूदगी का यह नया अध्याय है। अंग्रेजी बोलने वाला यह न्यूज रीडर अपनी पहली रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए बोलता है, ‘हैलो, आप देख रहे हैं इंग्लिश न्यूज कार्यक्रम।’

ब्राजील में पुलिस-डकैतों की मुठभेड़ में 11 की मौैत

 महत्वपूर्ण भूमिका: शिन्हुआ के लिए इस तकनीक को विकसित करने के लिए चीनी सर्च इंजन ‘सोगो’ ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आभासी समाचार वाचक अपने पहले वीडियो में कहता है, ‘मैं आपको सूचनाएं देने के लिए लगातार काम करूंगा क्योंकि मेरे सामने लगातार शब्द टाइप होते रहेंगे। मैं आपके सामने सूचनाओं को एक नए ढंग से प्रस्तुत करने वाला अनुभव लेकर आऊंगा।’

3डी मॉडल: विशेषज्ञों ने असली इंसान के 3डी मॉडल का इस्तेमाल करते हुए आभासी एंकर तैयार किया और इसके बाद एआई तकनीक के माध्यम से आवाज और हावभाव को तैयार किया गया। दिखने में यह हूबहू इंसानों जैसा लगे, इसके लिए काफी मेहनत की गई है। कपड़ों से लेकर होंठों के हिलने जैसी छोटी-छोटी बातों पर भी काफी ध्यान दिया गया है।

जी-20 में शी-ट्रंप की मुलाकात

24 घंटे काम करने में सक्षम: यह आभासी एंकर बिना थके 24 घंटे काम करने में समक्ष है। इसे तैयार करने के पीछे कंपनी की मंशा भी समाचार वाचकों को कम कर पैसा बचाना है। जिस ढंग से यह एंकर समाचार पढ़ता है, उसे देखकर इसे समाचार वाचकों की नौकरी पर खतरा माना जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...