बातचीत के बावजूद अमेरिका से खत्म नहीं हुई दुश्मनी: तालिबान

0
108

अफगान तालिबान ने कहा है कि अमेरिका और अन्य क्षेत्रीय शक्तियों के साथ जारी वार्ताओं के बावजूद अभी हमारी दुश्मनी खत्म नहीं हुई है। इसका कारण है कि बातचीत किसी भी ठोस निष्कर्ष पर नहीं पहुंची है। यह बात मीडिया की तरफ से खबर में कही गई। डॉन टीवी ने तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद के हवाले से यह बताया कि हम युद्ध के लिए बाध्य हैं। हमारे शत्रु हम पर हमला कर रहे हैं, तो फिर हम भी उनसे लड़ रहे हैं।’

पन्द्रहवीं राजस्थान विधानसभा का पहले सत्र का दूसरा चरण आज से

मुजाहिद का कहना है कि मास्को वार्ता में भी ऐसा कुछ ठोस हासिल नहीं हुआ जिसके चलते वह युद्ध और सैन्य दबाव को खत्म कर पाते। उन्होंने जोर दे कर कहा कि अमेरिका के साथ तालिबान उनकी अपनी पहल पर बातचीत कर रहा है। मालूम हो कि पिछले महीने दोहा में तालिबान के प्रतिनिधियों के साथ छह दिन की बातचीत के बाद ट्वीट की एक श्रृंखला में ‘अफगानिस्तान सुलह सहमति’ के लिए विशेष अमेरिकी प्रतिनिधि जालमे खलीलजाद ने कहा था कि अमेरिका ने तालिबान के साथ शांति वार्ताओं में ‘उल्लेखनीय प्रगति’ की है।

पीएम मोदी तमिलनाडु पहुंचे, रैली को करेंगे संबोधित

खलीलजाद ने कहा था ‘हमने शांति का एक मसौदा बनाया है लेकिन इसे समझौते का रूप देने से पहले इस पर विचार करना होगा।’ उन्होंने कहा था कि तालिबान हमारी संतुष्टि के लिए, अफगानिस्तान को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी समूहों या लोगों के लिए एक मंच बनने से रोकने के लिए आवश्यक कदम उठाने की खातिर प्रतिबद्ध है।’ अमेरिका ने पिछले साल सितंबर में खलीलजाद की नियुक्ति की थी। तब से वह अमेरिका के इस सबसे लंबे युद्ध को खत्म करने की कोशिश में सभी पक्षों से मिल चुके हैं। 17 साल से अधिक समय से चल रहे इस युद्ध में अमेरिका 2,400 से अधिक सैनिकों को गंवा चुका है।

———————————————————————————–

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...