Royal Enfield के मॉडिफिकेशन के बारे में यह बात नहीं जानते होंगे आप

0
53

Royal Enfield के दीवाने भारत में बेशुमार हैं। आजकल के युवा को बुलेट काफी आकर्षित करती है। हो भी क्यों ना दमदार इंजन, रेट्रो लुक्स, और शानदार डिजाइन से लैस जो है। आकर्षित करती है इसलिए ही इसे भारत में धड़ल्ले से खरीदा भी जाता है लेकिन खरीदते ही हम पहुंच जाते हैं इसकी मॉडिफिकेशन के लिए आखिर सबसे अलग दिखाने की होड़ जा होती है।

दक्षिणी कैलिफोर्निया में जनसमूह पर गोलियां चलाने वाला बंदूकधारी पूर्व नौसैनिक

भारत में सबसे ज्यादा रॉयल एनफील्ड की मोटरसाइकिल को मॉडिफाई किया जाता है लेकिन सबसे अलग अपनी बाइक दिखाने के चक्कर में हम अक्सर ऐसी गलतियॉं कर बैठते हैं। जिसे बाइक को भारी नुकसान पहुंचता है। मॉडिफाई करवाने से आपको बाइक का लुक तो लाजवाब मिल जाता है लेकिन माइलेज से लेकर इंजन तक को इससे भारी नुकसान पहुंचता है।Modified royal enfield

सबसे पहले बाइक के दीवानों को चाहिए धॉय धॉय करता हुआ साइलेंसर आखिर हर गली मौहल्ले में अपनी मौजूदगी जो दर्ज करना है। दुकान पर पहुंच कर आप लगवा भी लेते हैं लेकिन क्या आपको पता है। इसका सीधा असर आपके इंजन पर पड़ता है। अगर आपका अच्छी कंपनी का बढ़िया से डिजाइन किया हुआ एग्जॉस्ट है तो भी आपकी बाइक को कम खतरा रहता है लेकिन सस्ता वाला एग्जॉस्ट आपकी बाइक डैमेज कर सकता है न सिर्फ डैमेज बल्कि आपके माइलेज और आउटपुट के लिए भी यह खतरे की घंटी होती है। तो ध्यान रहे अपनी बुलेट को आकर्षक बनाने के चक्कर में उसके मौजूदा आउटपुट से खिलवाड़ न करें।silencer

इसके बाद नंबर आता है हॉर्न का आजकल बुलेट आॅनर्स के बीच यी भी नया फैशन बन गया है। जब तक जोर से हॉर्न ना बजे तब तक मजा नहीं बाता है, लेकिन नियम के हिसाब से तेज़ आवाज़ वाले हॉर्न गैरकानूनी हैं। ऐसे में अगर आपको पुलिस पकड़ लेती है तो आपको जुर्माना भी भरना पड़ सकता है। अगर आप अपने हॉर्न से संतुष्ट नहीं हैं तो आप हॉर्न जरूर लगवाएं लेकिन जांच लें कि इसके बाद आपका पूरा सिस्टम अच्छे से काम कर रहा है या नहीं। क्योंकि सिस्टम बिगड़ने से आपकी बाइक में आग भी लग सकती है। Royal enfield

एनफील्ड पहले से ही एक भारी भरकम बाइक है इसके बावजूद इसमें लेग गार्ड का इस्तेमाल इसे और वजनी बना देता है हालांकि लेग गार्ड बाइक की सेफ्टी के लिए जरूरी हैं और लेग गार्ड लगवाने में भी कोई बुराई नहीं है क्योंकि ये बाइक को नुक्सान से बचाता है। अगर राइडर कहीं गिर भी जाए तो यह बाइक को उठाने में भी मददगार साबित होते हैं। Modified royal enfield

लेकिन खराब क्वालिटी या खराब डिजाईन वाले लेग गार्ड्स टक्कर लगने से बाइक के चेसीस को अंदर की और धकेल देते हैं। जिससे वो डैमेज हो जाता है। वहीं सही क्वालिटी न होने से राइडर को चोट भी लग सकती है। इसलिए जरूरी है अपनी बुलेट के लिए अच्छे क्वालिटी के क्रैश गार्ड खरीदें।Modified royal enfield

रॉयल एनफील्ड की बाइक में दिया गया हैंडल सबसे पहले मालिक के निशाने पर होता है। क्योंकि कंपनी बाइक में साधारण तरीके से डिजाइन किया हुआ हैंडल देती है। बता दें, हैंडल मॉडिफाई कराने से भारी ट्रैफिक,भीड़ वाले इलाकों में काफी दिक्कतें होती हैं ।

————————————————————————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...