आलोचना के बाद बच्चो के लिए Facebook LOL नहीं होगा लॉच, जाने वजह

0
124

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक ने आलोचना के बाद फैसला लिया है कि वह नया बच्चो के लिए फेसबुक लोल नहीं होगा लॉच, जाने वजह एगा। एलओएल एप बच्चों को जानकारी पोस्ट और शेयर करने की सुविधा मुहैया कराने के लिए लाया जा रहा था। कानून के विशेषज्ञों ने फेसबुक के एलओएल की कड़ी आलोचना की थी। बताते चलें कि फेसबुक ने बीते महीने जानकारी थी कि वह kएलओएल हब में परीक्षण कर रहे हैं।

इसलिए हो रहा है विरोध 
दुनिया भर में बच्चों का मोबाइल इस्तेमाल करने का समय (स्क्रीन टाइम) कम करने की कोशिश की जा रही है जबकि फेसबुक के इस कदम से बच्चों का स्क्रीन टाइम बढ़ेगा। बच्चों के लिए अलग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म शुरू करना सही कदम नहीं है।

फिल्म ‘ढांका’ से हॉलीवुड में डेब्यू करेंगे पंकज त्रिपाठी

मैसेंजर किड्स पर रहेगा दारोमदार 
फेसबुक kएलओएल एप के स्थान पर kमैसेंजर किड्स पर ध्यान लगाएगा। कंपनी ने साल 2017 में 13 साल से छोटे बच्चों के लिए kमैसेंजर किड्स शुरू किया था। यह पेरेंटल कंट्रोल के साथ आता है, जिसकी मदद से माता-पिता जब चाहें तब किसी भी कॉन्टेक्ट को डिलीट कर सकते हैं। किड्स मैसेंजर एप में स्टिकर, जीआइएफ, फ्रैम और इमोजी जैसे फीचर मौजूद हैं जो बच्चों की रचनात्मक क्षमता में इजाफा करते हैं।

यूथ टीम की होगी दोबारा संरचना
फेसबुक दोबारा अपनी टीम की संरचना कर रहा है, जिसे kयूथ टीमl के नाम से जाना जाएगा। इसमें 100 से अधिक कर्मचारी होंगे। फेसबुक प्रवक्ता ने कहा कि यूथ टीम दोबारा से सर्वेश्रेष्ठ बिजनेस की प्राथमिकताओं पर ध्यान देगी और उसी के अनुरूप फीचर तैयार किए जाएंगे। यह जानकारी अंग्रेजी वेबसाइट सीनेट से मिली है।

बीते महीने चुपके से सर्वे करा रहा था फेसबुक 
सोशल मीडिया साइट्स फेसबुक बीते महीने चुपके से प्रति युवक 1,423 रुपये अमेरिका में देते पाया गया। इस रकम को देकर फेसबुक रिसर्च एप डाउनलोड करने के लिए कह रही थी। इसके बाद कंपनी फोन मौजूद निजी डाटा अपनी जरूरत के मुताबिक इस्तेमाल कर सकती थी।

टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा के जीवन पर बनेगी बायोपिक

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...