थोड़ी देर में शुरू होगा फाइनल, न्यूजीलैंड में इतिहास रचने उतरेगा भारत

0
81
AUCKLAND, NEW ZEALAND - JANUARY 25: Tim Southee of New Zealand looks on as Indian players celebrate the wicket of Luke Ronchi of New Zealand during the One Day International match between New Zealand and India at Eden Park on January 25, 2014 in Auckland, New Zealand. (Photo by Anthony Au-Yeung/Getty Images)

मौजूदा सत्र में सफलता के कई झंडे गाड़ने वाली भारतीय क्रिकेट टीम अब से कुछ ही देर में न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज के तीसरे और अंतिम टी-20 इंटरनेशनल मैच को जीतकर विदेशी सरजमीं पर एक और नई इबारत लिखना चाहेगी।

पिछले तीन महीने भारतीय टीम के लिए शानदार रहे हैं। इस दौरान भारत ने पहली बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज नाम की। इसके बाद टीम ने ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड को उनके घर में हराकर द्विपक्षीय वनडे सीरीज में फतह हासिल की। भारतीय टीम विदेशी सरजमीं पर मौजूदा सत्र का समापन पहली बार न्यू जीलैंड में द्विपक्षीय टी-20 अंतरराष्ट्रीय सीरीज में जीत के साथ करना चाहेगी। फिलहाल सीरीज 1-1 की बराबरी पर है और ऐसे में रविवार का दिन प्रशंसकों के लिए ‘सुपर संडे’ होगा।

कांग्रेस का वैसा ही हाल होगा जैसा कि श्रीलंका का हुआ : पर्रिकर

हैमिल्टन मैदान की पिच से हालांकि भारत को सावधान रहना होगा। इस मैदान पर चौथे वन-डे में ट्रेंट बोल्ट की अगुआई में स्विंग गेंदबाजों के दमदार प्रदर्शन से न्यूजीलैंड ने भारत की पारी को महज 92 रन पर समेट दिया था। रविवार को हालांकि परिस्थितियां अलग तरह की होंगी और टीम के लिए विदेशी सरजमीं पर चुनौतीपूर्ण हालात में एक और सीरीज जीतने से बड़ी प्रेरणा शायद ही कुछ और हो। तेज गेंदबाज खलील अहमद ने रविवार को अच्छे प्रदर्शन का भरोसा जताते हुए कहा, ‘हम हैमिल्टन में खेल चुके हैं और जहां तक पिच की बात है तो इसमें कुछ आश्चर्यचकित करने वाली चीज नहीं होगी। इसके अलावा दूसरे टी-20 को जीतने के बाद अंतिम मैच के लिए हमारा आत्मविश्वास ज्यादा होगा। हमने पहले मैच में की गलतियों में सुधार किया है।’

कुंभ में आज तीसरा शाही स्नान, सुरक्षा के हुए कड़े इंतजाम

भारत पहले दो टी-20 में एक ही टीम के साथ उतरा और अंतिम मैच में भी वही संयोजन बरकरार रखना चाहेगा। टीम प्रबंधन अगर कोई बदलाव करना चाहेगा तो युजवेन्द्र चहल की जगह कुलदीप को मौका मिल सकता है। खेल के इस प्रारूप में टीम ने हालांकि ज्यादातर मौके पर चहल पर भरोसा जताया है। भारतीय गेंदबाजी इकाई पिछले मैच के अपने अच्छे प्रदर्शन को दोहराना चाहेगी जहां उसने टिम सेफर्ट को आउट करने के बाद लय हासिल की थी।

क्रुणाल पंड्या एक बार फिर पिछले दो मैचों के प्रदर्शन को दोहराना चाहेंगे। इस टीम में क्रुणाल को हालांकि सबसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों में नहीं माना जाता लेकिन कड़ी मेहनत और अनुशासन के दम पर वह इस संयोजन का अहम हिस्सा बने हैं। तेज गेंदबाजी की कमान अनुभवी भुवनेश्वर कुमार और युवा खलील अहमद के हाथों में होगी। टीम के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा टी-20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं।

रोहित तीसरे मैच में भी उसी तरह का कमाल दिखाना चाहेंगे जैसा उन्होंने पिछले मैच में 29 गेंदों पर 50 रन की पारी के दौरान किया। सलामी बल्लेबाजी में उनके जोड़ीदार शिखर धवन ने भी ऑकलैंड में फॉर्म में आने के संकेत दिए। मध्यक्रम की जिम्मेदारी अनुभवी महेन्द्र सिंह धोनी के कंधों पर होगी और टीम ऋषभ पंत से एक और अच्छी पारी की उम्मीद करेगी।

फिल्म ‘ढांका’ से हॉलीवुड में डेब्यू करेंगे पंकज त्रिपाठी

न्यूजीलैंड का ध्यान बीच के ओवरों में बेहतर बल्लेबाजी करने पर होगा। कप्तान केन विलियमसन एकदिवसीय में अपनी ख्याति के अनुसार प्रदर्शन नहीं कर सके थे और दिग्गज रॉस टेलर भी भारत के खिलाफ निरंतर प्रदर्शन करने में असफल रहे हैं। गेंदबाजी की बात करें तो टिम साउथी पहले टी-20 में प्रभावशाली थे जबकि दूसरे में वह औसत गेंदबाज दिखे। तेज गेंदबाजी में उनके जोड़ीदार स्कॉट कगीलेन भी प्रभाव छोड़ने में असफल रहे।

दोनों टीम इस प्रकार है

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), शिखर धवन, ऋषभ पंत, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, एमएस धोनी, क्रुणाल पंड्या, कुलदीप यादव, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार, सिद्धार्थ कौल, खलील अहमद, शुभमन गिल, विजय शंकर, हार्दिक पंड्या, मोहम्मद सिराज।

न्यूजीलैंड: केन विलियमसन (कप्तान), डग ब्रैसवेल, कोलिन डे ग्रैंडहोम, लोकी फर्ग्युसन, स्कॉट कगीलेन, कोलिन मुनरो, डेरिल मिशेल, मिशेल सेंटनर, टिम सेफर्ट, ईश सोढ़ी, टिम साउदी, रोस टेलर, ब्लेयर टिकनर, जेम्स नीशाम।

———————————————————————————–
  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...