जयपुर के महिला जेल में जली अखण्ड़ ज्योत…

0
37

महानगर संवाददाता

प्रकाश सिंह चौहान 

जयपुर। जगत जननी माता के भक्तों की कही भी कमी नहीं है, चाहे वह जेल ही क्यूं न हो। गृहस्थ जीवन से लेकर साधु-संत तक अपने-अपने ध्यान केन्द्रों, आश्रमों एवं मठों में नवरात्र पर विशेष पूजा और हवन आदि करते है। जयपुर की महिला जेल में अपने अपराधों की सजा काट रही महिला बंदियों ने जेल में ही मां दुर्गा के नवरात्र किए।
इस दौरान जेल प्रशासन ने उन्हें पूजन सामग्री से लेकर भजन-कीतर्न एवं हवन के लिए विशेष छूट दी। यही कारण रहा कि 89 महिला बंदियों ने जेल के कायदे और कानूनों का पालन करते व्रत-उपवास किए और मां भगवती की आराधना की।महिला जेल अधीक्षक मोनिका अग्रवाल ने बताया कि वर्तमान में 150 महिला बंदिया है। जिसमें से 89 बंदियों जेल के नियमों का पालन करते हुए नवरात्र में मां दुर्गा की उपासना की और व्रत-उपवास रखे।

इस दौरान महिला बंदियों को विशेषछूट दी गई, जिसमें उन्होंने जेल परिसर में ही बने मां दुर्गा के मंदिर में मां दुर्गा की प्रतिमा का विशेष नए वस्त्र धारण कराकर उनका विशेष श्रृंगार किया और उनकी धूप-दीप आदि से पूजा की। उन्होंने बताया कि इस नवरात्र के उपलक्ष्य में महिला बंदियों को उनके परिजनों की ओर से लाए फल-फ्रूट, दूध, दही, छाछ आदि की विशेष छूट दी गई। महिला बंदियों ने मां दुर्गा की अखण्ड़ ज्योत जलाई और सुबह-शाम आरती की। नवरात्र के आखिरी दिन शनिवार को कन्याओं का पूजन कर उनको भोजन भी खिलाया गया।

भारत से GSP छीनना पड़ेगा महंगा: US सांसद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...