इस त्वचा को देख चक्कर में पड़ जाएंगे असली है या नकली

0
40

वैज्ञानिकों ने ऐसी त्वचा बनाई है जिसे देखकर आप यह समझ ही नहीं पाएंगे कि यह असली है या नकली। इसके लिए बेहद पतली लचीली इलेक्ट्रॉनिक त्वचा तैयार की है। इस त्वचा की मदद से रोबोट और कृत्रिम अंग या इनसानों और वातावरण के साथ बेहतर तालमेल बैठा सकेंगे।

2.0 बनी भारत की पहली वीएफएक्स वंडर मूवी

मानव त्वचा में संवेदनशील तंत्रिका कोशिकाएं होती हैं जो दबाव, तापमान और अन्य अनुभूतियों का अहसास कर सकती हैं जिससे इनसान अपने आसपास के वातावरण को महसूस कर पाता है। ऐसे अहसासों से भरपूर त्वचा बनाने के लिए वैज्ञानिक लंबे समय से काम कर रहे थे। पुर्तगाल की यूनिवर्सिटी ऑफ कोयम्बरा और अमेरिका की कारनेगी मेलॉन यूनिवर्सिटी के शोधकर्ता एकीकृत माइक्रो इलेक्ट्रॉनिक के साथ पतली परत वाला सर्किट बनाने के लिए तेज, सरल और सस्ती विधि विकसित करना चाहते थे।

———————————————————————————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...