पहली बार पीएम मोदी जयपुर ग्रामीण के कार्यकर्ताओं से हुए रूबरू

0
50

जयपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुरुवार को जयपुर ग्रामीण समेत देशभर के बूथ कार्यकर्ताओं से नमो एप के जरिए सीधा संवाद किया। बूथ कार्यकर्ताओं से बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा में नाम से नहीं काम से नेतृत्व तय होता है।

बूथ स्तर के कार्यकर्ता को संगठन के शीर्ष के नेतृत्व की जिम्मेदारी सौंपने का काम सिर्फ भाजपा ही कर सकती है, चाहे वो पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हों या अलग-अलग राज्यों में हमारे मुख्यमंत्री हों।

इन सभी ने बूथ स्तर से कार्य करना शुरू किया है। यहां कोई व्यक्ति स्थायी नहीं है, आज जहां मैं हूं, कल कोई और होगा और यही भारतीय जनता पार्टी में लोकतंत्र के कारण है। पदभार ये व्यवस्था है, कार्यभार ये जिम्मेवारी है। पदभार बदल सकता है लेकिन मां भारती को समर्पित हम कार्यकताओं को कार्यभार से कभी मुक्ति नहीं मिल सकती है।

पीएम मोदी ने कहा कि कई बार तो मुझे कांग्रेस के अनेक पुराने कार्यकर्ताओं पर, जिन्होंने संघर्ष किया है, ज़मीन पर काम किया है, उनके प्रति संवेदना का भाव आता है।

उनका संघर्ष, उनका सामर्थ्य सिर्फ एक परिवार के काम ही आ रहा है। एक से एक समर्थ लोग परिवार के विकास की भेंट चढ़ गए हैं। भाजपा सरकार सिर्फ नारे गढ़ती नहीं उन्हें धरातल की वास्तविकता तक ले जाती है।

सबका साथ-सबका विकास- हमारे लिए सिर्फ नारा नहीं बल्कि एक मंत्र की तरह पवित्र लक्ष्य है। पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले चार वर्षों ने कांग्रेस और उसके कुछ सहयोगियों की पोल खोल दी है।

पहले जनता ने उन्हें गवर्नेंस में असफलता, फैसले लेने की अक्षमता, भ्रष्टाचार के कारण बाहर का रास्ता दिखाया और जब विपक्ष की भूमिका निभाने का अवसर आया तो वहां भी वो फेल हो गए।

आज पूरी दुनिया, दुनिया की नामी संस्थाएं कह रही हैं कि भारत बहुत तेज़ गति से आगे बढ़ रहा है। चार वर्ष पहले भारत 10वें नंबर की अर्थव्यवस्था था लेकिन आज हम छठे नंबर पर पहुंचे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि जब ‘जड़ जितनी मजबूत होती है तो पेड़ उतना ही फलदाई और ताकतवर होता है’। मेरे लिए ये सौभाग्य का विषय है कि आज भाजपा की जड़ को सींचकर उसे एक घने वृक्ष रुपी पार्टी बनाने वाले ऐसे अनेक कार्यकताओं से बात करने का मौका मिला है।

हमारे कार्यकताओं की मेहनत, सामर्थ्य, पुरुषार्थ और संकल्प के कारण ही आज हमें इस मुकाम पर पहुंचे है। देश के नए बन रहे आधुनिक एक्सप्रेसवे, साफ-स्वच्छ रेलवे स्टेशनों और अनेक शहरों में बन रही मेट्रो में कोई जाति या पंथ पूछकर एंट्री नहीं होगी।

मुद्रा योजना के तहत 13 करोड़ से अधिक लोन पाने वाले भाई-बहन हर जाति, पंथ और संप्रदाय से हैं। उज्जवला के तहत जो 5 करोड़ से अधिक गरीब बहनों को मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है तो उसमें सरिता भी है, सबीना भी और कोई सोफिया भी है।

सौभाग्य योजना से बिजली रामेश्वर के घर में भी पहुंच रही है तो रहमान, रतिंदर और रॉबर्ट के घर का अंधेरा भी छट रहा है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...