सिद्धू ने की बादलों को पंथ से निष्कासित करने की मांग

0
82

अमृतसर। पंजाब सरकार में कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल तथा डेप्युटी सीएम सुखबीर सिंह बादल को सिख पंथ से निष्कासित करने की मांग की है। सिद्धू ने पिता-पुत्र पर अकाल तख्त की मदद से डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम की सहायता करने का आरोप लगाया है।

दल के दोनों नेताओं पर आरोप लगाया कि उन्होंने सिखों की सर्वोच्च संस्था अकाल तख्त के जत्थेदार पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल करते हुए विवादित डेरा प्रमुख राम रहीम को माफीनामा दिलवाया। सिद्धू ने अकाल तख्त सचिवालय को दिए चार पेजों के ज्ञापन में पिता-पुत्र को निष्कासित करने की मांग की।

सिद्धू ने पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के प्रमुख सुनील जाखर के साथ मीडियाकर्मियों को संबोधित करते हुए कहा कि बादलों ने राजनीतिक फायदे के लिए अकाल तख्त संस्था का दुरुपयोग किया।

2009 के लोकसभा के दौरान सुखबीर बादल की पत्नी हरसिमरत कौर बादल की जीत के लिए डेरा प्रमुख के साथ डील की थी। उन्होंने आरोप लगाया कि डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को MSG2 की रिलीज़ से एक दिन पहले अकाल तख्त की तरफ से माफी मिली थी।

सिद्धू ने कहा कि उनके पास आरोप को साबित करने के लिए पूरे सबूत हैं। सिद्धू ने इसके साथ ही जत्थेदार ने बादलों की तानाशाही के आगे सिर झुकाकर अकाल तख्त की महत्ता को गिराया है।

  • 1
    Share

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...