नीतीश को 17 सीटें देना BJP की भूलः तेजस्वी

0
50

पटना  लोकसभा चुनाव को लेकर बिहार में सियासी सरगर्मी काफी तेज है। यहां सीधा मुकाबला एनडीए बनाम महागठबंधन है। महागठबंधन में अहम भूमिका निभा रही पार्टी आरजेडी को पूरा विश्वास है कि सूबे में एनडीए का पत्ता इस बार साफ हो जाएगा। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक विशेष साक्षात्कार में तेजस्वी ने यह भी कहा कि बिहार में बीजेपी ने नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू को 17 सीटें देकर बड़ी गलती की है और इसका खामियाजा एनडीए को भुगतना पड़ेगा।

Image result for नीतीश कुमार को 17 सीटें देकर बीजेपी ने कर दी है बड़ी गलती, एनडीए की हार तय: तेजस्वी

सवाल- बिहार में महागठबंधन के लिए जीत की संभावनाएं कितनी हैं?
जवाब– हम जीतेंगे। चुनाव में एनडीए की करारी हार तय है। दरअसल, बीजेपी ने जेडीयू को 17 सीटें देकर बड़ी गलती कर दी है। एनडीए की सरकार पूरी तरह से इवेंट मैनेजमेंट पर आधारित सरकार है। ये लोगों की आकांक्षाओं की कीमत पर चुनावों में फर्जी मुद्दों को हवा दे रहे हैं। 23 मई को जब रिजल्ट आएगा तो वह एनडीए के लिए किसी सदमे से कम नहीं होगा।

सवाल-बिहार में महागठबंधन का चेहरा कौन है?
जवाब- कांग्रेस राष्ट्रीय पार्टी है। राहुल गांधी इस पार्टी के अध्यक्ष हैं। ऐसे में गठबंधन का चेहरा तो राहुल गांधी ही होने चाहिए।

सवाल-चुनाव प्रचार के दौरान आपको पिता (लालू प्रसाद यादव) की कमी खल रही है?
जवाब-
हम सभी खासकर मीडियाकर्मी भी लालूजी को याद कर रहे हैं। मैं यह कह सकता हूं कि वह हमारे लिए किसी राजनीतिक संस्थान की तरह हैं, जहां हम स्टूडेंट की तरह उनसे हमेशा कुछ नया सीखते रहते हैं। उनका मार्गदर्शन हमें सही वक्त पर सही कदम उठाने की प्रेरणा देता है।

लोकसभा चुनाव 2019 – कांग्रेस के स्टार प्रचारकों की सूची यहां देखें

सवाल-नीतीश कुमार ने आरोप लगाया है कि लालू यादव जेल में होने के बावजूद फोन से बात करते हैं?
जवाब- नीतीश कुमार ने अपने कार्यकाल में कोई काम नहीं किया है। ऐसे में अब वह लालूजी को निशाना बना रहे हैं और यह झूठ फैला रहे हैं कि वह जेल से फोन पर बात कर रहे हैं। बल्कि अनंत सिंह ने तो यहां तक कहा था कि नीतीश कुमार ने अपने करीबी लल्लन सिंह के फोन से लालूजी को फोन किया था, जब वह जेल में थे।

सवाल-पप्पू यादव आप पर टिकट नहीं मिलने का आरोप लगा रहे हैं ?
जवाब-
बीजेपी की कठपुतलियों पर मैं ध्यान नहीं देता। वह किशनगंज और पूर्णिया में कांग्रेस के खिलाफ माहौल बना रहे हैं। इसके अलावा मधेपुरा और बेगूसराय में महागठबंधन के प्रत्याशियों के खिलाफ काम कर रहे हैं।

सवाल-राजनीति में कन्हैया कुमार को लेकर आपके क्या विचार हैं?
जवाब-सीपीआई के साथ हमारा कोई गठबंधन नहीं है। हम बेगूसराय में पिछले चुनावों में अपने प्रत्याशी तनवीर हसन के सराहनीय प्रयासों को नजरअंदाज नहीं कर सकते। पूरे देश में अल्पसंख्यक प्रत्याशियों के लिए बेहद कम सीट है। वैसे भी तनीवर एक जीताऊ उम्मीदवार हैं।

पेट्रोल हुआ सस्ता, डीजल की कीमतें रही स्थिर

सवाल-आपके भाई ने पार्टी से अलग जाकर लालू-राबड़ी मोर्चा बना लिया है, आपकी टिप्पणी।
जवाब-
लोकतंत्र में सभी को अपने विचार रखने की आजादी है। यह पारिवारिक मामला है और मैं इस पर कुछ टिप्पणी नहीं करना चाहता।

————————————————————————-

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...