Facebool
Twitter
Youtube

नवरात्रि के दौरान अगर आ गए हैं पीरियड्स तो ध्यान रखें ये जरूरी बातें

  • Mahanagartimes
  • 17 October, 2020

लाइफस्टाइल

हिंदू धर्म में नवरात्रि का खास महत्व बताया गया है। शक्ति, आस्था और विश्वास का यह उत्सव साल में दो बार मनाया जाता है। इस बार शारदीय नवरात्र शनिवार 17 अक्तूबर से शुरू होकर 25 अक्टूबर तक रहेंगे। ऐसे में अगर नवरात्रि व्रत के दौरान आपको लग रहा है कि आपको पीरियड्स शुरू हो सकते हैं या फिर हो चुके हैं तो टेंशन छोड़िए और ध्यान रखें ये जरूरी बातें। इन बातों को ध्यान में रखने से यकीन मानिए आपकी आस्था और सेहत दोनों बने रहेंगे।

पीरियड्स के दौरान न रखें व्रत-
व्रत के दौरान अगर आपके पीरियड्स शुरू हो गए हैं तो व्रत न रखें। महावारी के दौरान महिलाओं को चक्कर आना, भूख न लगना, कमजोरी महसूस होना और कब्ज जैसी समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में अगर आप व्रत रखेंगी तो आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

भक्ति का स्थान सर्वोपरि-
मासिक धर्म महिलाओं में होने वाली एक प्राकृतिक घटना है, जो हर महिला को हर माह 22 से 28 दिन बाद होती है। यदि आपको लग रहा है कि आपके पीरियड्स नवरात्र के बीच में शुरू होने वाले हैं तो आपको व्रत नहीं रखना चाहिए। याद रखें मां की नजर में आपके भूखे रहकर खुद को कष्ट पहुंचाने से ज्यादा बड़ा स्थान आपकी भक्ति का है।

periods during navratri

अपने पार्टनर से कहें-
महावारी के दौरान मूड स्विंग और स्वभाव से चिढ़- चिढ़ा होना आम बात है। लेकिन व्रत का संकल्प लेने के बाद अगर आपके पीरियड्स शुरू हो गए हैं तो खुद को स्ट्रेस देने की जगह इस बार पार्टनर से कहें कि वो आपकी जगह नवरात्रि व्रत रखें।

मन में करें मां का ध्यान-
पीरियड्स के दौरान स्ट्रेस लेवल कम करने के लिए मेडिटेशन की सलाह दी जाती है। ऐसे में आप भी खुद को अच्छा फील करवाने के लिए एकाग्र मन से मां का ध्यान करें। ऐसा करने से आपको भक्ति का फल भी मिलेगा और आपका स्ट्रेस लेवल भी कम हो जाएगा।

अपनी डाइट का रखें पूरा ध्यान-
पीरियड्स के दौरान अगर आप अपना आहार ठीक से नहीं लेते तो यह आपकी सेहत पर भारी पड़ सकता है। यही वजह है कि पीरियड्स के दौरान डॉक्टर भी महिलाओं को पौष्टिक आहार लेने की सलाह देते हैं।