रणवीर और दीपिका को तीसरी बार करनी पड़ सकती है शादी, इटली की दोनों शादियों में हुई ये बड़ी भूल

0
61

मुंबई।    रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की शादी हुए अभी 10 दिन ही बीते हैं । इन 10 दिनों में बॉलीवुड के इस कपल ने 3 रिसेप्शन भी दे दिए । एक बेंगलुरु में हुआ और दो मुंबई में । काम से छुट्टी लेकर रणवीर और दीपिका फिलहाल सिर्फ पार्टी मूड में हैं। इसी बीच रणवीर और दीपिका के लिए एक बुरी खबर आई है । दरअसल, इस स्टार कपल की शादी कानूनी पचड़े में पड़ गई है । ranveer singh deepika padukone

दरअसल, दीपिक और रणवीर ने शादी में एक ऐसी गलती कर दी है जिससे शादी रजिस्टर नहीं हो पा रही है । बताया जा रहा है कि इस वजह से आज तक विराट कोहली और अनुष्का शर्मा की शादी भी रजिस्टर नहीं हो पाई है। इसका खुलासा, पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के वकील हेमंत कुमार द्वारा लगाई गई एक आरटीआई में हुआ है। आरटीआई के मुताबिक दीपिका और रणवीर ने इटली के लेक कोमो में 14 नवंबर 2018 को शादी की थी। यह शादी रजिस्टर नहीं हो सकती क्योंकि इस बारे में वहां दूतावास को लिखित जानकारी नहीं दी गई। विदेशीय विवाह अधिनियम 1969 के प्रावधान के मुताबिक जिस देश में शादी की जा रही है वहां के दूतावास को लिखित जानकारी देनी होती है।

DEEPIKA RANVEER RECEPTION

दीपिका-रणवीर ने ऐसा नहीं किया इसलिए अब इनकी शादी विदेश में ही नहीं, भारत के भी किसी राज्य में रजिस्टर नहीं हो सकती। आरटीआई के मुताबिक शादी का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए दीपिका-रणवीर को एक बार फिर मुंबई में सांकेतिक शादी करनी होगी। इसके बाद ही इनकी शादी का रजिस्ट्रेशन हो सकेगा। यदि दीपिका-रणवीर ऐसा नहीं करते तो शादी का मैरिज सर्टिफिकेट नहीं बन सकेगा। बता दें कि आरटीआई में सवाल पूछा गया था ‘क्या रणवीर सिंह और दीपिका पादुकोण की शादी भारतीय संसद द्वारा बनाए गए कानून विदेशी विवाह अधिनियम, 1969 के तहत संपन्न हुई है। क्या शादी में हर तरह की कानूनी औपचारिकताएं पूरी की गईं हैं तो जवाब में यह जानकारी मिली।Related image

साथ ही पता चला कि इसी साल 14 जनवरी को इटली में ही शादी करने वाले विराट कोहली और अनुष्का शर्मा को मैरिज रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट अभी तक नहीं मिला है। क्योंकि इन दोनों ने भी इटली और भारतीय दूतावास में बिना औपचारिकताएं पूरी किए बगैर शादी की थी। इसका खुलासा भी हेमंत कुमार द्वारा लगाई गई आरटीआई के जवाब में हुआ था।

2.0 HD प्रिंट में 12000 वेबसाइट ब्लॉक होने के बावजूद इस साइट से हो रही डाउनलोड

विदेशी विवाह अधिनियम, 1969 के मुताबिक, विदेश में यदि कोई भारतीय शादी करता है तो उसे वहां स्थित भारतीय दूतावास को इसकी जानकारी देनी होती है। दूतावास में कई तरह की औपचारिकताएं पूरी करनी होती हैं। शादी करने वाले लड़के और लड़की के दस्तावेजों की फाइल सहित शादी के कार्ड को भी प्रमाण के तौर पर जमा किया जाता है। इन प्रक्रियाओं को न करने पर बाद में शादी के रजिस्ट्रेशन में दिक्कत आती है।

———————————————————————————-

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...