सांगानेर से लाहोटी!

0
142

जयपुर। (ऐश्वर्य शर्मा) भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह मंगलवार को प्रदेश में थे, उनके आते ही चुनावी सरगर्मियां और तेज हो गई हैं। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के गौरव यात्रा में व्यस्त रहने के बावजूद शाह के इस दौरे का आयोजन राज्य के प्रति केन्द्र की गंभीरता दिखाता है। जीते हुए सभी भाजपा विधायक अपनी-अपनी सीट निकालने की जुगत में लग गए हैं। महापौर अशोक लाहोटी ने अपने कार्यों एवं दौरों से स्पष्ट कर दिया है कि वह ही आने वाले समय में सांगानेर विधानसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी होंगे।

जून के बाद से ही लाहोटी ने नगर निगम के बाद सांगानेर को अपना अगला गढ़ बना लिया और शहर के बाकी विधानसभा क्षेत्रों के बनिस्पत सांगानेर पर अपना ध्यान ज्यादा केन्द्रित किया है। गत तीन माह में करोड़ों रुपयों से ज्यादा के कार्यों का शिलान्यास करने के साथ-साथ स्थानीय समस्याओं में व्यक्तिगत रुचि भी लेने लगे हैं। जबसे उनके पुराने कार्यक्षेत्र सिविल लाइन्स से राज्य के वरिष्ठ मंत्री को प्रमुख दावेदार माना जाने लगा है तब से लाहोटी ने अपने गृह क्षेत्र को ही अपना चुनाव रणक्षेत्र बनाने का मानस बना लिया है।

विश्वसनीय सूत्रों के अनुसार उन्होंने अपने कई निजी मित्रगणों, सहयोगियों, कार्यकर्ताओं को क्षेत्र में जाकर भावी तैयारियों में जुटने के लिए तैयार कर लिया है। सांगानेर से वर्तमान विधायक घनश्याम तिवाड़ी ने नई पार्टी बनाकर अपने इरादे साफ कर दिए हैं। भाजपा भी क्षेत्र में उनको चुनौती दे सकने वाले चेहरे की तलाश में है। मगर अब तक लाहोटी की युवा व कर्मठ छवि बाकी सभी दावेदारों पर भारी पड़ती दिख रही है।

पिछले विधानसभा चुनाव में सिविल लाइन सीट पर दो आला नेताओं की कशमकश भी छुपी नहीं थी। इस बार लाहोटी का रास्ता साफ नजर आ रहा है। उनकोकहां से लडऩा है और किनके खिलाफ यह भी स्पष्ट है। पिछले दिनों उनके सांगानेर में हुए दौरों को लेकर भी चर्चा और तेज हो गई है। मुख्यमंत्री से उनकी बढ़ी नजदीकी एवं भरोसे को देखते हुए यह कहा जा सकता है कि सांगानेर सीट पर महज एक औपचारिक ऐलान होना ही शेष है। अब देखना यह है कि क्या कद्दावर नेता घनश्याम तिवाड़ी को लाहोटी पटखनी दे पाते हैं या नहीं।

  • 2
    Shares

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

loading...